हवाई जहाज में लगने वाला ब्लैक बॉक्स क्या है।-What is the black box in the plane

What is the black box

हवाई जहाज में लगने वाला ब्लैक बॉक्स क्या है।What is the black box in the plane

ब्लैक बॉक्स क्या है- किसी भी हवाई जहाज के दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद सबसे पहले उसके मलबे से जिस चीज को खोजा जाता है, वह है ‘ब्लैक बॉक्स।’ यह बड़े काम की चीज होती है, क्योंकि इसी से दुर्घटना के मूल कारणों का पता चलता है। यह उपकरण ब्लैक बॉक्स के नाम से भले जाना जाता हो, किंतु इसका रंग नारंगी होता है

तकनीकी भाषा में इसे ‘कॉकपिट वॉयस रिकॉर्डर’ कहते हैं। इसमें पायलट व कंट्रोल रूम के बीच की गई सारी बातचीत दर्ज रहती है। इतना ही नहीं, कॉकपिट में हुई किसी भी किस्म की ध्वनि व केबिन क्रू के सदस्यों की बातों को भी यह रिकॉर्ड करता रहता है। इस ऑटोमेटिक डिवाइस के साथ फ्लाइट का ‘डाटा रिकॉर्डर’ भी जुड़ा रहता है। 

ब्लैक बॉक्स इतना मजबूत होता है कि किसी भी किस्म की दुर्घटना में इसका बाल बांका नहीं हो सकता। इसके कवर पर लगभग दो सेंटीमीटर मोटी इस्पात की चादर होती है। इसकी लंबाई व ऊंचाई करीब 25 सेंटीमीटर तथा चौड़ाई लगभग 8 सेंटीमीटर होती है। यह प्रयोगशाला में तैयार अति उच्च कोटि के धातु का बना होने के कारण बहुत भारी-भरकम होता है। अतिरिक्त मजबूती के लिए इन्हें लिक्विड फील्ड फोम ब्लेंडर से लाइन-अप कर दिया जाता है।

ऊपर से फायर प्रफ प्लास्टिक कवर से इसे और मजबूती दी जाती है। अब एक प्रश्न यह उठता है कि इसी मजबूती से वायुयान को क्यों नहीं बनाया जाए, ताकि वह भी विस्फोट के बीच सुरक्षित रहे। इसका जवाब यह है कि ब्लैक बॉक्स में प्रयुक्त धातुओं के प्रयोग के बाद वायुयान इतना भारी हो जाएगा कि उसका उड़ना ही संभव नहीं रह पाएगा। वायुयान को अल्यूमिनियम और प्रशोधित प्लास्टिक जैसी हल्की चीजों से बनाया जाता है, ताकि यह मजे में हवा की सवारी कर सके। 

More from my site

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *