Beauty tips in hindi for fairness | त्वचा को गोरा बनाने के लिए घरेलू उपाय | Skin whitening tips in Hindi

Beauty tips in hindi for fairness

Beauty tips in hindi for fairness | त्वचा को गोरा बनाने के लिए घरेलू उपाय | Skin whitening tips in Hindi

हर कोई हर किसी में तलाशता है आकर्षक और मोहक ब्यूटी… रूप ऐसा कि हर मौसम में खिला-खिला लगे, बार-बार छूने का, देखने का मन करे। निगाहें ठहर जाएं, तारीफों में शब्द मुंह से निकल पड़ें। आप भी अपना सौंदर्य कुछ इस तरह से निखारें कि आपके ‘वो’ आपके दीवाने हो जाएं। 

त्वचा का बहुत शुष्क होना 

सर्दी हो या गरमी हाथों में दरारें पड़ जाती हैं और पैर भी फटने लगते हैं, तो समझें आपकी त्वचा बहुत शुष्क है। सबसे पहले तो आप त्वचा के इस रूखेपन का उपचार इस प्रकार करें-हाथ धोने के बाद हमेशा मॉइश्चराइजर लगाएं। रात को सोने से पहले विटामिन-ई युक्त क्रीम या वैसलीन से हाथों व पैरों की मालिश करें। पैरों को हल्के गरम पानी से साफ करें। नहाने के लिए और घर का काम करने के लिए अधिक गरम पानी का प्रयोग न करें। इससे त्वचा का रूखापन और अधिक बढ़ जाता है। हाथों की दरारें दूर करने के लिए हाथों में थोड़ी-सी चीनी लें और उस पर नीबू का रस निचोड़ें। इसे हाथों पर तब तक मलें जब तक चीनी के दाने घुल न जाएं। फिर पानी से धो लें। पैर फटने की शिकायत दूर करने के लिए 100 मि.ली. सरसों का तेल गरम करके उसमें 50 मि.ग्रा. देसी मोम और 10 ग्राम कपूर मिला लें। जब मोम पिघल जाए तब इस मिश्रण को फटी एड़ियों पर लगाएं, ऊपर से कॉटन के मोजे पहन लें। सुबह उठकर पैर साफ कर लें। पैरों की दरारें 2-3 दिन में गायब हो जाएंगी। 

आडू पौष्टिक फल ही नहीं है, बल्कि सौंदर्य प्रसाधन भी है। यह शुष्क त्वचा की क्लींजिंग करता है।  आडू के गूदे को मसलकर उसमें एक बड़ा चम्मच दही मिलाएं। इसे चेहरे पर 15 मिनट तक लगाकर रखें। फिर ठंडे पानी से धो लें। इससे त्वचा जवां रहती है। चेहरे की सुंदरता को बनाए रखने के लिए प्रतिदिन मसाज करना और फेसपैक लगाना भी जरूरी है। इससे त्वचा में कसावट बनी रहती है

बॉडी स्क्रब अगर बारीक न हो तो रेशेज आ जाते हैं। हमेशा मुलायम स्क्रब का प्रयोग करें। घर पर बाँडो स्क्रब बनाना चाहते हैं तो इस तरह से बनाएं 200 ग्राम हल्दी पाउडर, 5 ग्राम नीम की पत्तियों का पाउडर दूध में मिलाकर पूरे शरीर पर लगाएं। यदि त्वचा रूखी है तो इस स्क्रब में जैतून का तेल भी मिलाएं। यह स्कब त्वचा को कोई हानि नहीं पहुंचाता है। 

अपनी स्किन की टोनिंग नियमित रूप से करें। टोनिंग से स्किन की अतिरिक्त तैलीयता और बंद छिद्र की समस्या दूर हो जाती है। आप घर पर ही टोनर बना सकते हैं। इसके लिए आधे खीरे का रस निकालें। फिर इसे आंच पर रखकर एक उबाल दें। धीमी आंच पर 5 मिनट तक पकाएं और ठंडा करके छान लें। इसमें हाथ से मसली हुई पुदीने की कुछ पत्तियां मिलाकर चेहरे पर लगाएं और सूखने पर चेहरा धो लें। 

त्वचा को गोरा बनाने के लिए घरेलू उपाय

अधिकांश महिलाओं का चेहरा तो साफ होता है पर गरदन व पीठ का रंग थोड़ा काला होता है जिससे बड़े गले के सूट या ब्लाउज में वे आकर्षक होने के बाद भी अनाकर्षक दिखती हैं। यदि आपके सामने भी ऐसी ही समस्या है, तो इस समस्या से निजात ‘पाने के लिए आप नियमित रूप से स्क्रब करें। स्क्रब बनाने के लिए संतरे के छिलकों का पाउडर, मसूर की पिसी दाल, पिसे चावल, चंदन पाउडर और जरा-सा हल्दी पाउडर मिला लें। इसे खीरे के रस में फेंटकर पीठ व गरदन पर लगाएं। 5 मिनट बाद हाथ गीले करके हल्के हाथ से छुड़ाएं। 3-4 मिनट तक गरदन व पीठ मलने के बाद उस पर क्रीम लगा लें। ऐसा प्रतिदिन करने से गरदन व पीठ की रंगत निखर उठती है। 

यदि आप जुओं और लीखों से परेशान हैं, तो सप्ताह में तीन बार सिर धोएं। शैंपू करने से 30 मिनट पहले प्याज का रस रूई से सिर की त्वचा पर लगाएं और 30 मिनट बाद शैंपू से सिर धो लें। नीम व पुदीने की पत्तियों को पानी में उबाल लें। जब पानी आधा रह जाए, तब पानी के बराबर तिल का तेल मिलाकर उबालें। जब सारा पानी उड़ जाए, तब इसे ठंडा करके बोतल में रख लें। इसे सिर में लगाने से जुएं और लीखें दोनों ही नष्ट हो जाती हैं। 

त्वचा को गोरा बनाने के लिए घरेलू उपाय

चेहरे को आकर्षक लुक बालों से ही मिलता है। बाल झड़ने लगते हैं, सफेद होने लगते हैं। तो इससे सौंदर्य बहुत अधिक प्रभावित होता है। बाल झड़ने के कई कारण होते हैं, जैसे-कोई भी शारीरिक रोग, रूसी, मानसिक तनाव, हार्मोन संबंधी गड़बड़ी, तेज केमिकल वाले शैंपू का प्रयोग, खाने-पीने में गड़बड़ी आदि। ठीक से नींद लें और भोजन में प्रोटीन की मात्रा बढ़ाएं। इसके लिए दालें, सोयाबीन, दूध, दही, अंडा, मछली, पनीर, अंकुरित अन्न आदि ले सकते हैं। रोज आंवला खाएं। आंवला कच्चा या पकाकर भी खा सकते हैं। बालों में 15 दिन में एक बार मेहंदी लगाएं। मेहंदी में मेथी के पिसे बीज, आंवला पाउडर, शिकाकाई पाउडर व अंडा मिलाकर लगाएं। इससे बालों के सफेद होने की गति धीमी पड़ जाती है। सिर की मालिश जैतून या नारियल के तेल से करें। तेज केमिकल वाले शैंपू या साबुन से जहां तक हो सके, बचें। 

आपकी उम्र 40-45 वर्ष की है और चेहरे पर अब पहले वाला-सा ग्लो नहीं है, तो यह बढ़ती उम्र का असर है। आप समय-समय पर अपना डॉक्टरी चेकअप कराते रहें, क्योंकि मानसिक परेशानियों से भी स्किन का ग्लो खत्म होने लगता है। मानसिक उलझनों को सुलझाएं। इसके लिए हल्का-फुल्का व्यायाम करें। कपालभाति तथा अनुलोम-विलोम प्राणायाम इसमें आपकी मदद करेगा। सलाद, हरी सब्जियां, फल आदि पर्याप्त मात्रा में लें। इन सबके साथ त्वचा पर ऑलिव ऑयल लगाया करें। दो-तीन दिन में एक बार स्किन को स्क्रब करके मृत कोशिकाएं हटाएं। हफ्ते में एक बार फेसपैक लगाएं। पैक के लिए बादाम पीसकर उसमें शहद और अंडा मिलाएं। इस पैक को चेहरे पर लगाएं और 20 मिनट बाद पानी से धो लें। इससे त्वचा में कसावट आती है। 

माथे का रंग चेहरे के रंग से अलग है या दबा हुआ है, तो चम्मच बेसन, 2 चुटकी हल्दी पाउडर और 1 चुटकी नमक को थोड़े-से दूध में मिलाकर, पेस्ट बनाकर लगाएं। सूख जाने पर हल्के हाथों से छुड़ा लें। यह पेस्ट नियमित रूप से लगाने पर माथे का रंग चेहरे के रंग से मेल खाने लगता है। 

चेहरे, आंखों व नाक के आसपास चश्मे के निशान अक्सर पड़ जाते हैं, जो देखने में अच्छे नहीं लगते। इस तरह के निशान कम करने का अच्छा उपाय है कि चश्मा सिर्फ काम करने के समय ही लगाएं। निशान को और हल्का करने के लिए 1 चम्मच चोकर, 1 चम्मच चंदन पाउडर, 1 चम्मच नीबू के सूखे छिलकों का पाउडर लेकर इन्हें संतरे के रस में मिलाकर पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को चेहरे पर लगाकर 5 मिनट तक यूं ही लगा रहने दें। 5 मिनट बाद हल्के हाथों से मलें और फिर ताजा पानी से चेहरा धो लें। रात को सोते समय निशानों पर ब्रांडेड हर्बल क्रीम लगाकर सोएं। लाभ होगा। 

साबुन लगाने के बाद संपूर्ण त्वचा पर पानी डालकर ठीक से रगड़ें। इसके बाद पानी से धोएं। ध्यान रखें, साबुन का झाग त्वचा पर चिपका न रह जाए। जहां कठोर पानी है, वहां विशेष ध्यान देने की जरूरत होती है। कठोर पानी में मौजूद कैल्शियम एवं मैग्नीशियम साबुन में पाए जाने वाले तत्वों के साथ मिलकर एक गाढ़ा मिश्रण-सा बना देते हैं, जो त्वचा पर चिपक जाते हैं। इसलिए साबुन से नहाने के बाद रोएंदार तौलिए से शरीर को रगड़कर पोंछ लें। इसके बाद शरीर पर बेबी ऑयल, बॉडी ऑयल, ऑलिव ऑयल आदि में से जो भी अच्छा लगे, वह लगाएं। इससे साबुन का गलत प्रभाव त्वचा पर नहीं पड़ता। सर्दी के मौसम में तो ऐसा करना बहुत ही जरूरी है। 

आंखों के आसपास झुर्रियां तभी पड़ती हैं, जब शरीर में पानी की कमी हो जाती है। इसका दूसरा कारण मसल्स का लूज होना भी है। आप प्रतिदिन 8-10 गिलास पानी पिएं या जितनी क्षमता हो उतना पिएं। सुबह 2 चम्मच आंवले का जूस पिएं। रोजाना हल्के हाथों से आंखों के आसपास जैतून के तेल से मसाज करें। भोजन में अधिक प्रोटीन लें। मसलन दाल, चने, मकई, दूध, पनीर, मटर आदि। इनसे झुर्रियों का बढ़ना थमता है। 

त्वचा के रूखेपन से प्रौढ़ महिलाएं सबसे अधिक परेशान रहती हैं। सर्दियों में यह समस्या और बढ़ जाती है। इसके लिए 1 चम्मच गेहूं का आटा और 1 चम्मच बेसन दोनों को दूध में मिलाकर पेस्ट बना लें। इसे लगाते समय इसमें चुटकीभर हल्दी भी मिला लें। इससे त्वचा साफ, नरम, मुलायम और चमकदार हो जाती है। 

बालों के लिए घरेलू कंडीशनर की चाह सभी महिलाओं की होती है। इसके लिए मेहंदी सबसे अच्छा कंडीशनर है। इसे आप सप्ताह में एक बार लगा सकती हैं। बाल रूखे होने पर मेहंदी में दही मिला लें। इसे लगाकर 2-3 घंटे के लिए छोड़ दें। इसके बाद धो लें। 

बाल बहुत भूरे और रूखे हैं, घने और लंबे नहीं हैं, तो दही में मेथीदाना भिगोकर रातभर के लिए रख दें। सुबह उसे पीसकर बालों की जड़ों में लगाएं। 2 घंटे बाद धो लें। इससे बाल मुलायम होकर उनका रूखापन दूर होता है। बाल लंबे करने के लिए कनेर की 5 ग्राम पत्तियों को 250 मि.ली. सरसों के तेल में उबालें, फिर इसे ठंडा करके छान लें। इस तेल को बालों की जड़ों में लगाकर मसाज करें। इससे बाल लंबे हो जाएंगे। 

आंखों के नीचे अनचाहे बाल हों, तो चने के आटे को दूध में मिलाकर, पेस्ट बनाकर चेहरे पर लगाएं। सूख जाने पर हाथों को गोल-गोल घुमाते हुए उतार लें। यह पेस्ट रोजाना लगाने से आंखों के नीचे के अनचाहे बाल झड़ जाते हैं। 

चेहरे पर दाने जैसे निकल आते हों, तो यह पेस्ट सही रहेगा-1 चम्मच बेसन, 1 चम्मच चोकर, 1 चम्मच जौ का आटा, 1 चम्मच मसूर दाल का आटा, 2 चुटकी हल्दी पाउडर। इन सबको दूध में मिलाकर पेस्ट बना लें। नहाने से पहले इस पेस्ट को फेस और बॉडी पर लगाकर हल्के हाथों से मलें। फिर छुड़ा लें। यह पेस्ट सप्ताह में दो बार लगाएं। इसके अलावा 20 एस.पी.एफ. पॉवर की सनस्क्रीन क्रीम या लोशन धूप में निकलने से पहले लगाएं। 

Skin whitening tips in Hindi

स्किन बहुत ही नाजुक और संवेदनशील है, तो स्टीक बिंदी लगाने से वहां निशान पड़ जाते हैं। इस समस्या से निजात पाने के लिए बिंदी लगाने से पहले लेक्टोकेलोमाइन लोशन लगाएं। फिर कंपैक्ट का प्रयोग करें। रात में सोने से पहले बिंदी उतार दें। इसके साथ ही स्टीकर बिंदी की बजाय तरल बिंदी माथे पर लगाएं। 

डिलीवरी के बाद चेहरे पर खुरदरापन आ गया हो, चेहरे पर चमक नहीं हो, तो तला एवं मसालेदार भोजन न लें। रोज अच्छे क्लींजर से चेहरे की सफाई करें। महीने में एक बार फेशियल करवाएं। सुबह होते ही सैर करने के लिए निकल जाए। 

चेहरे पर अधिक रोंए हैं, तो उन्हें दूर करने के लिए बेसन का उबटन या आटे की लोई से चेहरे को स्क्रब करें। रोजाना दिन में दो बार स्क्रब करने से रोए कम हो जाते हैं और त्वचा की रंगत भी निखर उठती है। 

आंखों के नीचे डार्क सर्कल का होना आम समस्या है। यह बहुत ही भद्दे और अनाकर्षक दिखते हैं। इन्हें हल्का करने के लिए खीरे का रस निकालकर फ्रिज में ठंडा कर लें। फिर रूई के पैड बनाकर उन्हें इस रस में डुबोकर आंखों पर 15-20 मिनट रखें। यह प्रयोग प्रतिदिन करने से डार्क सर्कल हल्के पड़ जाते हैं और कम होते हैं तथा पूरी तरह से मिट भी जाते हैं। 

डेंड्रफ की वजह से अधिकतर महिलाएं परेशान रहती हैं। सर्दियों में यह समस्या और बढ़ जाती है, जिससे बालों में खुजली भी होने लगती है। शिकाकाई और रीठे से बालों को धोकर इससे छुटकारा पाया जा सकता है। डेंड्रफ दूर करने के लिए रात को पानी में मेथीदाने भिगो दें। सुबह पीसकर पेस्ट बना लें और बालों की जड़ों में लगाएं। 

स्किन पर ढलती उम्र का असर न हो, इसके लिए गेहूं की भूसी और दूध की क्रीम दोनों को मिलाकर पेस्ट बना लें। साबुन की बजाय इससे स्किन की सफाई करें। गेहूं की भूसी और ध की क्रीम स्किन को ढीलेपन से बचाती हैं। इससे मृत कोशिकाएं भी निकल जाती हैं, साथ ही स्किन को नॉरिशमेंट भी मिलता है। इसके अतिरिक्त आलू, गोभी, गाजर, गुलाब की पंखुड़ी, चंदन, हल्दी, शहद और बादाम का मास्क लगाने से भी उम्र ढलने की प्रक्रिया बहुत हद तक धीमी पड़ जाती है। 

गालों पर खुले रोमछिद्र हैं, तो एक अंडे के सफेद वाले भाग को ठीक से फेंटकर खुले रोम छिद्रों पर सप्ताह में दो बार लगाएं। 10-15 मिनट के बाद चेहरा धो लें। 

सांवली स्किन पर निखार लाने के लिए रोटी को चूरा करके दूध में मिलाएं। इस घोल को पूरे चेहरे, गरदन पर लगाएं। सूखने पर हल्के हाथों से रगड़ते हुए उतार लें। इसे रोजाना लगाएं। 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

eight − 6 =