मृत्यु से जुड़ी रोचक जानकारी-mrtyu se Judi rochak jankari

मृत्यु से जुड़ी रोचक जानकारी

रोचक तथ्य-मृत्यु से जुड़ी रोचक जानकारी

1.मृत्यु प्रसिद्ध अंग्रेजी दार्शनिक और साहित्यकार फ्रांसिस बेकन (1561-1626) ने यह जांचने के लिए कि क्या बर्फ के प्रयोग से किसी मुरदा जानवर की सड़ांध को रोका जा सकता है, एक मुर्गा खरीदा, उसे मारा तथा फिर उसमें बर्फ भर दी। बस तभी बेकन को भयंकर सर्दी चढ़ गई तथा उसी से उनकी मृत्यु हो गई। (बुक ऑफ लिस्ट) 

2.एक अमरीकी जासूसी संस्था के मालिक एलन पिंकर्टन (1819-1884) ने मल त्याग करते समय कुछ जोर लगाया और इसी प्रयास में उसकी जीभ दांतों के बीच आकर कट गई। इसके फलस्वरूप उसे ग्रीन हो गया। बाद में उसकी मृत्यु हो गई। (बुक ऑफ लिस्ट) 

3,टर्की के मल्ल-योद्धा यूसुफ इस्माइल ने अमरीका आकर वहां की कुश्ती के चैंपियन इवान लुई को परास्त किया। इस जीत से यूसुफ को जो धन मिला उससे उसने सोने के सिक्के खरीदे जिन्हें वह एक बैल्ट में छुपाकर हर समय अपनी कमर से बांधे रहता। सन् 1898 में स्वदेश लौटते समय उसका जहाज ‘ली बारगोन’ एक दूसरे ब्रिटिश जहाज ‘नावा स्काटिया’ से टकराकर डूबने लगा। सबने यूसुफ को सलाह दी कि वह अपना धन फेंककर बोझ हल्का कर ले। पर वह नहीं माना और सोने के सिक्कों को कमर से बांधे ही जल में कूद पड़ा। एक अच्छा तैराक होने के बावजूद अपने धन के बोझ के कारण वह समुद्र में डूबकर मर गया। (बुक ऑफ लिस्ट) 

4.ब्रिटिश साहित्यकार आर्नोल्ड बेनेट (1867-1931) ने पेरिस की एक सभा में यह प्रदर्शित करते हुए एक गिलास पानी पिया कि पेरिस का जल बिल्कुल शुद्ध है। परंतु पानी शुद्ध नहीं था। इसी प्रदूषित पानी से उन्हें टायफाइड हो गया और उनकी मृत्यु हो गई। (बुक ऑफ लिस्ट) 

5.आस्ट्रिया के हैन स्टींगर नामक व्यक्ति की दाढ़ी दुनिया में सर्वाधिक लंबी थी। सितंबर, 1567 में वह ब्रुन की कांउसिल चैंबर की सीढ़ियां चढ़ते हुए अपनी ही दाढ़ी में उलझकर सीढ़ियों से लुढ़क गया और मर गया। (बुक ऑफ लिस्ट) 

6.पेट ब्रक नामक एक व्यक्ति ने 23 अगस्त, 1903 को पिछले 20 वर्ष में पहली बार नहाया। पर उसके शरीर को यह सफाई पसंद नहीं आई। दूसरे ही दिन वह स्थानीय अस्पताल में स्वर्ग सिधार गया। (बुक ऑफ लिस्ट) 

7.सन् 1905 में किसी मानसिक चिकित्सालय में भरती इटली के कवि सैबरिनो फरारी को जब यह सूचना दी गई कि उन्हें बोलोना विश्वविद्यालय में साहित्य का प्रोफेसर नियुक्त किया गया है, अचानक मिले इस समाचार के कारण वह गिरकर मर गए। (बुक ऑफ लिस्ट) 

8.मैक्सिको का क्रांतिकारी जनरल रोडोल्फ फिएरो (1880-1917) जब सोनारो की तरफ बढ़ रहा था, अपने घोड़े को एक गलत रास्ते पर ले जा बैठा।फलस्वरूप घोड़ा दलदल में फंस गया। इस घोड़े पर फिएरो के अलावा काफी सोना भी लदा था। अतः बोझ के दबाव से घोड़ा और फिएरो दोनों दलदल में डूबकर मर गए। (बुक ऑफ लिस्ट) 

9.सन् 1159 में शाह फ्रेडरिक प्रथम के विरुद्ध भाषण करते हुए पोप एड्रियन चतुर्थ ने एक गिलास पानी पीने के लिए मुंह खोला ही था कि पता नहीं कहां से एक मक्खी आकर उनके तालू से चिपक गई । इसे गले से हटाने में चिकित्सक भी असफल रहे। इसी मक्खी के कारण पोप की मृत्यु हो गई। (बुक ऑफ लिस्ट) 

10.अमरीकी साहित्यकार मार्क ट्वेन का जन्म, 1835 में हुआ था। इसी वर्ष हेली का धूमकेतु भी दिखाई दिया था। ट्वेन कहा करते थे कि जब यह हेली का धूमकेतु दुबारा पृथ्वी की तरफ लौटेगा, तब उनकी मृत्यु हो जाएगी। यही हुआ। सन् 1910 में हेली का धूमकेतु दुबारा दिखाई दिया और इसी वर्ष 21 अप्रैल को मार्क ट्वेन का स्वर्गवास हो गया। ((बुक ऑफ लिस्ट) 

11.जापान की कावासाकी हैवी इन्डस्ट्रीज के आक्षी कारखाने में केंजी यूर्दा नामक मजदूर एक रोबोट के सामने से नहीं हटने के कारण (4 जुलाई, 1981) दबकर मर गया। संभवतः किसी रोबाट द्वारा इंसान को मारे जाने की यह पहली घटना थी। बुक ऑफ लिस्ट) 

12.आस्ट्रिया के संगीतज्ञ आर्नोल्ड शानबर्ग (1874-1951) के जीवन में 13 का बड़ा महत्त्व रहा। उनका जन्म 13 सितंबर को हुआ था। उन्हें विश्वास था कि उनकी मृत्यु भी 13 तारीख को ही होगी। अपनी 76 (योग 13) वर्ष की उम्र में सन् 1951 की 13 जुलाई को अर्द्धरात्रि से 13 मिनट पूर्व 11.47 बजे ही उनका स्वर्गवास हुआ। (बुक ऑफ लिस्ट) 

13.अति बुरी होती है। फ्लोरिडा की 29 वर्षीया टीना क्रिस्टोफर्सन को यह शंका हो गई कि उसे पेट का कैंसर हो गया है। अतः वह अकसर निराहार रहकर सिर्फ जल का सेवन करने लगी। वह एक दिन में चार गैलन तक पानी पी जाती थी। शरीर में अत्यधिक पानी अर्थात् वाटर इन्टॉक्सिकेशन के कारण 17 फरवरी, 1977 को उसकी मृत्यु हो गई। (बुक ऑफ लिस्ट) 

14.बॉबी लीक नामक साहसी व्यक्ति ने सन 1911 में एक बैरल के अंदर बैठकर नियाग्रा प्रपात से छलांग लगाई तथा फिर यहीं पर वह पैराशूट से कूदने में भी सफल रहा। परंतु अप्रैल, 1926 में क्राइस्ट चर्च, न्यूजीलैंड के एक रास्ते से गुजरते हुए वह नारंगी के एक छिलके से फिसलकर गिर पड़ा। इस दुर्घटना के कारण उसकी टांग काट देनी पड़ी, जिसके बाद उसकी मृत्यु हो गई। (बुक ऑफ लिस्ट) 

15.अमरीकी जाज संगीतकार लुई आर्मस्ट्रांग की स्मृति में उनकी द्वितीय पत्नी 27 अगस्त, 1971 को शिकागो के सिविक सेंटर प्लाजा में एक कार्यक्रम पेश कर रही थी कि अचानक दिल का दौरा पड़ने के कारण मंच पर ही उसकी मृत्यु हो गई। (बुक ऑफ लिस्ट) 

16.रॉय सी सुलीवान नामक व्यक्ति पर कुल मिलाकर सात बार बिजली गिरी, परंत वह हर बार जिंदा बचा रहा। बाद में एक प्रेम-प्रसंग में असफल होने पर निराश होकर उसने आत्महत्या कर ली। (गिनेस बुक) 

16.पांचवी सदी के एक यूनानी चित्रकार पेंटर जैक्सिस ने एक बढी डायन की पेंटिंग बनाइ तथा उसे देखकर उसने जो हँसना शुरू किया तो हँसता ही रहा। अंत में मौत ही उसे चुप करवा सकी। (बुक ऑफ लिस्ट) 

17.सऊदी अरब के शाह फैजल कुवैती मंत्रियों के साथ तेल की चर्चा में व्यस्त थे कि अचानक उनका भतीजा शहजादा फैजल इन मुसाद अब्दुल अजीज किसी पूर्व सूचना के बिना कमरे में प्रविष्ट हुआ। शाह फैजल ने उठकर इस आशा में अपना सिर नीचे झुका दिया कि उनका भतीजा पैगंबर मोहम्मद साहब के जन्म-दिवस पर उन्हें पारंपरिक चुम्बन देने आया है। परंतु चुम्बन देने के बजाय भतीजे ने उनके सिर में गोलियां दागकर उनकी हत्या कर दी। (बुक ऑफ लिस्ट) 

18.’वाइल्ड बिल’ के नाम से मशहूर जेम्स बटलर हिकाक एक पारंगत निशानेबाज था। खेलते समय वह हमेशा दीवार की तरफ पीठ करके बैठता था। एक दिन अपने एक मित्र को चिढ़ाने के चक्कर में वह क्लब के दरवाजे की तरफ पीठ करके ‘पोकर खेल रहा था कि एक पुराने दुश्मन ने उसकी हत्या कर दी। मरते समय उसके पास तीन इक्के तथा एक जोड़ा काले अट्ठे थे। तभी से इस जोड़े को ‘डेड मैंस हैंड’ कहा जाता है। (बुक ऑफ लिस्ट) 

19.ट्रोजन की लड़ाई में लकड़ी का घोड़ा बनवाने की सलाह देने वाले केलकस को अंगूर की बेल लगाते देख उनके एक मित्र ने कह दिया कि वे अपने जीवन में इस बेल के अंगूरों की शराब नहीं पी पाएंगे। जब बेल बड़ी हुई और अंगूर पक गए, तब इनसे शराब बनाई गई। उन्होंने उसी मित्र को यह दिखाने के लिए आमंत्रित किया कि देखो मैं तुम्हारे सामने अपने बोए अंगूरों की शराब पीता हूं और जाम हाथ में उठा लिया। परंतु उनके मित्र ने अब भी अपनी वही बात दोहराई। यह बात सुनते ही केलकस को हँसी का इस कदर तेज दौरा पड़ा कि उसका गला तत्काल अवरुद्ध हो गया। जाम होंठों से लगने से पूर्व ही उसकी मृत्यु हो चुकी थी। (बुक ऑफ लिस्ट)

20.क्लेरेंस के ड्यूक जार्ज को उसके भाई रिचर्ड तृतीय ने शराब के ड्रम में डुबो-डुबोकर मारा। (बुक ऑफ लिस्ट) 

21.आस्ट्रिया की मैरी काउंटेस आर्को को अपने बाग में 50,000 डॉलर मूल्य के सान क सिक्क मिले, परंतु वह इनमें से कछ भी खर्च नहीं करती थी। वह जहां भी जाती, इन्हें लकड़ा का एक तिजोरी में डालकर अपनी बग्घी में बने एक गप्त कोने में छिपाकर साथ ले जाता था। 23 जून, 1948 के दिन बग्घी को एक जोरदार झटका लगा और यह गुप्त खजाना अचानक उछलकर नीचे बैठी मैरी के सिर पर आ गिरा। अपनी तिजोरी की चोट से ही मरा का मृत्यु हो गई। (रिप्ले) 

22.सेवाय का ड्यूक लुइगी द्वितीय (1402-1465) अपनी जिंदगी के आखिरी बीस वर्षों में दिन में बाइस घंटे सोता ही रहता था। वह सिर्फ तीन बार खाना खाने के लिए उठता और फिर सो जाता। इस प्रकार सोते-सोते ही उसकी मृत्यु हो गई। (रिप्ले) 

23.सन् 1631 में फ्रेंकाइस वाटियर ने एण्टीमनी पाउडर को चिकित्सा जगत् में प्रयोग करके एक तहलका मचा दिया था। वह अपनी इस कारगर दवा से इतना प्रभावित था कि प्रत्येक नुस्खे के लिए एण्टीमनी पाउडर का प्रयोग करता था। सन् 1652 में उसकी मृत्यु एण्टीमनी द्वारा फैले जहर से ही हुई। (रिप्ले) 

24.फ्रांसिस्को डेल बार्क ने एक ऐसा शिलाप्रक्षेपक बनाया, जो 1,500 पौंड भार को एक मिसाइल की तरह फेंक सकता था। सन् 1346 में डेलमेटा पर हमले के दौरान वह अपनी बनाई मशीन में ही उलझ गया और एक मिसाइल की तरह उड़ता हुआ शहर में आ गिरा। संयोगवश वह वहां से गुजरती हुई अपनी पत्नी के ऊपर ही गिरा। दोनों मारे गए। (रिप्ले) 

26.हास्य फिल्म और मंच-अभिनेता डिक शॉन ला जॉला कैलिफोर्निया में एक प्रदर्शन के दौरान अचानक गिर पड़े तथा काफी देर तक उठे ही नहीं। दर्शकों ने इसे भी उनके अभिनय का एक हिस्सा समझा। तभी उनके पुत्र ने दर्शकों में से किसी डॉक्टर को पुकारा। जांच करने पर पता चला कि अचानक पड़े दिल के दौरे के कारण स्टेज पर ही उनकी मृत्यु हो गई थी। (टाइम्स ऑफ इंडिया, 1-7-87) 

27.दुर्ग जिले के गाबड़ी गांव से मिली एक रिपोर्ट के अनुसार बिजली गिरने से एक चौदह वर्षीय बालक वहीं मारा गया, जबकि साथ खेल रहा दूसरा बालक जो जन्म से ही गूंगा था, इस घटना के बाद बोलने लग गया। (टाइम्स ऑफ इंडिया, 1-7-87) 

28.योगकर्टा (जकार्ता) में एक कार मैकेनिक काम कर रहा था कि तभी अचानक मजाक सूझा और उसने अपने साथी सुपिरेंटो की पीछे से फटी पैंट में एयर कम्प्रेशर की नॉजल डाल दी। दुर्भाग्यवश नॉजल सुपिरेंटो की गुदा में फंस गयी तथा कुछ ही सेकंडों में शरीर में हवा भर जाने के कारण सुपिरेंटो की मृत्यु हो गई। (टाइम्स ऑफ इंडिया) 

29.जब सन् 1799 में नेपोलियन मध्य-पूर्व में एक जनरल के रूप में कार्यरत था, उसने अपने यहां कैद 1200 तुर्कियों को मुक्त करने का आदेश दिया था, परंतु उसी समय उसे खांसी आ गई। उसके मातहत कार्य कर रहे अफसरों ने ‘मा सैकरी टाक्स’ (मेरा यह गड़बड़ कफ) को ‘मेसेकर टाउस’ (इन सबको मार दो) सुन लिया। फलतः सभी 1200 कैदी बेमौत मारे गए। (रिप्ले) 

30.इंग्लैंड के व्हिटबी चर्चयार्ड की एक कब्र पर लगे पत्थर पर लिखा है : “यहां फ्रांसिस हंटड्रास तथा उसकी पत्नी मैरी दफन हैं। इन दोनों का जन्म 19 सितंबर, 1600 को हुआ था, दोनों की शादी 19 सितंबर को हुई तथा बारह बच्चों की जन्म देने के पश्चात् 80 वर्ष की उम्र में दोनों की मृत्यु भी 19 सितंबर को हुई।” (रिप्ले) 

31.अल शहरानी नामक सउदी अरब निवासी एक कारखाने में कार्य करते समय गिरकर बेहोश होकर ‘कॉमा’ में चला गया। उसे मृत मानकर उसके सगे-संबंधियों ने दफना दिया। 27 घंटे बाद उसे होश आया तथा वह अपनी कब्र में से पुकारने लगा। कुछ राहगीरों ने डरते-डरते उसे निकाला। जब वह अपने घर पहुंचा तो उसकी बहिन और मां अल शहरानी को जीवित देखकर मानसिक रूप से विचलित हो गई और कुछ दिनों के बाद इन दोनों की मृत्यु हो गई। (टाइम्स ऑफ इंडिया, 15-9-89) 

32.पेरिस के गोदाम में किताबों को जमाते समय तीन मजदूरों पर भारी किताबें ऊपर से लुढ़क कर गिर पड़ीं और ये तीनों किताबों के बोझ तले दब कर मारे गए। (टाइम्स ऑफ इंडिया, 15-9-89) 

33.मुरे पुत्जर सन् 1983 में लकवे से पीड़ित होने के पश्चात् अस्पताल में भरती था। उसे सिर्फ नलियों से भोजन दिया जा रहा था। अपनी इस जिंदगी से तंग आकर उसने अदालत से अपील की कि उसे स्वयमेव मरने दिया जाए, वह अब अधिक जिंदा रहना नहीं चाहता। न्यू जर्सी की अदालत ने इस 65 वर्षीय बीमार के मुंह से भोजन नलियां हटा देने की अनुमति दे दी। इस प्रकार वह अपनी मौत स्वयं मरा। (टाइम्स ऑफ इंडिया, 22-7-87) 

34.सासाराम से प्राप्त पी.टी. आई. की एक खबर के अनुसार डुमरिया गांव में ‘खून का बदला’ नाटक मंचित किया जा रहा था। इस नाटक के दौरान एक अभिनेता द्वारा काम में ली जा रही बंदूक से वास्तव में गोली चल गई। दूसरा अभिनेता वहीं स्टेज पर ही मारा गया। (टाइम्स ऑफ इंडिया, 8-10-87)