धन से जुड़ी रोचक जानकारी

धन से जुड़ी रोचक जानकारी

रोचक तथ्य-धन से जुड़ी रोचक जानकारी

1.युगोस्लाविया के जर्गेब कस्बे में राहगीरों ने सड़क के किनारे रखे एक कचरे के डिब्बे में से झांकते हुए कुछ स्थानीय और कुछ विदेशी नोट देखे। अचानक भीड़ वहां टूट पड़ी और जिसको जितना मिल सका, अपनी जेबों में भरकर पार हो गया। यह पता नहीं चल सका कि इतना धन कचरे के डिब्बे में कैसे पहुंचा। एक अनुमान के अनुसार इस डिब्बे में 600 मिलियन दीनार से अधिक मूल्य की स्थानीय और विदेशी मुद्रा थी।  (टाइम्स ऑफ इंडिया) 

2.सिएरा, लिओन के गांव बाएजेडु में अचानक आई तेज वर्षा ने वहां की एक गली में छिपे अनेक हीरे उजागर कर दिए। जिसको जितना मिल सका, लूटकर भाग गया। बाद में भीड़ को नियंत्रित करने के लिए सेना की सहायता लेनी पड़ी। (टाइम्स ऑफ इंडिया,7-7-87) 

3.एना, सिसली की एक विधवा की प्रार्थना पर उसके दफनाए हुए पति की लाश को खोदकर निकाला गया तथा उसकी जैकेट की एक गुप्त जेब से छः मिलियन लीरा बरामद किए गए। पत्नी को संदेह था कि उसका पति अपनी सारी बचत छुपाए हुए था। (टाइम्स ऑफ इंडिया) 

4.कोलंबिया में रहने वाली सुजेरा नामक महिला एक शराबखाने में बारटेंडर थी। वहां के एक नियमित ग्राहक ने उसे पचास डॉलर मल्य के इलिनॉइज स्टेट लॉटरी के पचास टिकट लाने को कहा। सूजेरा ने गलती से दसरी लॉटरी की मशीन में पैसे डाल दिए, अतः इन दूसरे टिकटों को ग्राहक ने लेने से इन्कार कर दिया। बड़ी मुश्किल से उसने इन पचास टिकटों में से 20 टिकटा को दूसरे ग्राहकों को बेचा। फिर भी उसे 30 डॉलर की चपत लग ही गई। दुखी सजेरा का भाग्य अचानक उस समय चमक उठा, जब जबरदस्ती पल्ले पड़े इन टिकटों पर एक पर दस मिलियन डॉलर का इनाम खुल गया। (टाइम्स ऑफ इंडिया, 24-1-88) 

5.होन्जो, अकीता (जापान) के दो निवासी समुद्री घास ढूंढ़ रहे थे कि अचानक उनकी नजर समद्र किनारे रखे एक स्पोर्ट्स बैग की तरफ गई। उन्होंने खोलकर देखा तो उनकी आंखें खुली रह गई। इसमें 11.4 मिलियन येन नकद थे। सभी येन नोट दस हजार के बंडलों में बंधे थे। उन्होंने इसे वापस जमा कराना चाहा, परन्तु वहां के स्थानीय कानून के अनुसार कोई व्यक्ति इस धन का स्वामी बनकर मांगने नहीं आया, अतः यह मुफ्त का धन उन्हीं दोनों व्यक्तियों के नाम कर दिया गया।  (टाइम्स ऑफ इंडिया, 2-11-87) 

6.कैलिफोर्निया की श्रीमती पर्ल एण्डरसन को सोते समय सपने में यह दिखाई दिया कि एक स्लॉट मशीन में से ढेरों रुपये निकल रहे हैं। उसी समय उसकी आंख भी खुल गई और वह आधी रात को ही गाड़ी चलाकर नैवड़ा पहुंची और एक स्लॉट मशीन पर अपनी किस्मत आजमाने लगी। सपना सही चरित्रार्थ हुआ और पर्ल एण्डरसन को एक मिलियन डॉलर वाला स्लॉट मशीन का प्रथम पुरस्कार प्राप्त हुआ। 

7.रोडे द्वीप में रहने वाली एक विधवा ने अचानक पाया कि उसके दिवंगत पति ने घर के कि एक कोने में छः फुट चौड़ा गुप्त खाना बना रखा था। उसने वहां पर खुदाई चाल की उसे इस गुप्त तहखाने से दो टन चांदी प्राप्त हुई।

8.ग्रांट नामक एक व्यक्ति ने सन 1861 में लन्दन के एक अखबार में खबर पढ़ी कि प्रिंस और बीमार चल रहे हैं। इस व्यक्ति ने फौरन ही लंदन के इलाके से सारा का सारा काले का क्रेप कपड़ा खरीद लिया। जब प्रिंस अल्बर्ट की मृत्यु हुई, तब ग्रांट ने इस काले काले को बेचकर मुनाफे के रूप में डाई लाख पाउंड कमाए। 

9.सन् 1860 में स्पेन सरकार की राष्ट्रीय लाटरी का प्रथम पुरस्कार सेन्टिआगो अलान्सो कार्डियो के नाम खुला, परन्तु सरकार के पास विजेता को देने के लिए नौ लाख डॉलर नकद नहीं था। अतः मेड्रिड का विशाल भवन केसे-डी-कार्डियो नकद राशि के बदले विजेता को भेंट कर दिया गया। 

10.टेम्पल, एरिजोना के एक किराए के मकान में रहने वाले केनथ लेन ने अपने घर में तिलचट्टों से मुक्ति पाने की सोची। अतः वह स्प्रे लेकर उनके संभावित छिपे ठिकाने पर स्प्रे करने जुट गया। एक एयरकंडिशनर के पीछे उसने सफाई करना चाहा, तो उसे वहां एक पुराना बैग मिला। खोलने पर इस बैग में 75,000 डॉलर नगद प्राप्त हुए। इस मकान के कई पुराने किराएदारों तक से पूछताछ कर ली गई, परन्तु सही दावेदार नहीं मिल सका और सफाई के चक्कर में प्राप्त इस धन से केनथ लेन की बदकिस्मती भी साफ हो गई।  (टाइम्स ऑफ इंडिया, 18-11-88) 

11.टोक्यो में रहने वाली श्रीमती नौकिरो यामाटो को अपने घर की डाकपेटी में हाथ डालने पर पत्र की जगह दो पैकेट प्राप्त हुए। एक स्कार्फ से लिपटा था और दूसरा अखबार में बंद था। कुछ डरते हुए और कुछ उत्सुकता से उसने इन पैकेटों को खोला। अखबार में दस मिलियन येन तथा स्कार्फ में 24 लाख येन लिपटे हुए थे, जिनके स्वामित्व के बारे में कोई जानकारी प्राप्त न हो सकी। अन्ततः यह धन श्रीमती यामाटो की ही संपत्ति माना गया। 

12.गास्टन डूमर्ग सन् 1924 से 1931 तक फ्रांस के राष्ट्रपति रहे तथा इस दौरान वे कुछ भी धन एकत्र नहीं कर पाए। परन्तु अपने निजी जीवन में वापस लौटने पर उन्होंने एक लाटरी का टिकट खरीदा, जिसपर उन्हें एक लाख डॉलर प्राप्त हुए। 

13.इस्ट ससैक्स क्षेत्र के निवासी एक वृद्ध दंपति ने तीस वर्ष पूर्व 100 पौंड खर्च करके तांबे की एक प्रतिमा खरीदी और अपने बगीचे में लगा दी। कुछ समय पूर्व जब इन्होंने इसे बेचना चाहा, तो ज्ञात हुआ कि 17 वीं शताब्दी की यह प्रतिमा हालैंड के प्रसिद्ध मूर्तिकार एडिइन-डे-वारिस की कृति है। एक कद्रदान ने इसे 17 करोड़ 68 लाख रुपये में खरीदकर उसकी गरीबी दूर कर दी। 

14.प्रसिद्ध अरबपति जेम्स गोर्डन बेनेट को माण्टे कार्लो के एक रेस्तरां में बना मटन चॉप बेहद पसन्द था। वे प्रत्येक रात्रि को वहां जाकर एक विशेष मेज पर बैठकर खाना खाया करते थे। एक दिन जब वे रेस्तरां गए, तब उस मेज पर कोई दूसरा व्यक्ति बैठा था। गोर्डन बेनेट ने फौरन ही मालिक को मुंह मांगी रकम 40,000 डॉलर (आज तीन लाख डॉलर से अधिक) दिए और रेस्तरां के मालिक बन गए। इसके बाद उन्होंने वहां अपनी मेज पर बैठे व्यक्ति से मेज खाली करने को कहा, अपनी मेज पर बैठकर अपना मनपसन्द भोजन किया और जाते समय वह रेस्तरां एक अनजान वेटर सिरो को टिप में भेंट कर चल दिए। (डेविड फ्रास्ट)