कैसे करें बालों की देखभाल 

कैसे करें बालों की देखभाल 

कैसे करें बालों की देखभाल 

  • बाल धोने के लिए ज्यादा गर्म पानी का प्रयोग न करें। इसके लिए गुनगुने पानी का प्रयोग करें। 
  • डाई बालों को रूखा बना देती है, इसलिए डाई लगाने के बाद कंडीशनिंग जरूर करें। 
  • वैसे जहां तक हो सके, डाइ के इस्तेमाल से बचें। 
  • बालों को धूप से बचायें। धूप जाते समय छतरी का प्रयोग करें या बालों को स्कार्फ, दुपट्टे से ढक कर निकलें। 
  • धूप के साथ तेज हवाएं भी बालों को बेजान और खुश्क बनाती हैं। इनसे बालों का बचा कर रखें। 
  • बालों में मेंहदी केवल कंडीशनिंग के लिए यदि आप कर रही हैं तो उसमें केवल दही मिलाएं। 
  • बालों पर यदि मेंहदी आप रंग के लिए कर रही हैं तो उसमें थोड़ा सरसों या नारियल तेल अवश्य मिलाएं ताकि मेंहदी के बाद बाल रूखे न रहें। मेंहदी लगाने के बाद धूप में बैठकर मेंहदी न सुखाएं। १/२ से २ घंटे बाद सिर अच्छी तरह से धो लें। यदि कुछ कण रह जाएं तो परेशान न हों। बाल सूखने पर कंधा करते समय कण अपने आप ही निकल जाएंगे। 
  • बालों को स्वस्थ, घने और चमकदार बनाए रखने के लिए संतुलित और पौष्टिक भोजन लें। अंकुरित दालें, दूध व दूध से बनी चीज़ों का नियमित सेवन करते रहें। पौष्टिक भोजन से बालों को पोषण मिलता है। 

 

  • गर्भकाल के दौरान बालों को गिरने से रोकने के लिए गर्भवती महिलाओं को भोजन में प्रोटीन की मात्रा अधिक लेनी चाहिए। चाय, काफी, कोल्ड ड्रिंक्स का सेवन कम से कम करें। 
  • सिर की त्वचा पर रूई की सहायता से अच्छी तरह तेल लगाएं। तेल में आप नारियल, जैतून, सरसों, आंवले, बादाम का तेल सप्ताह में दो बार प्रयोग में ला सकती है। बालों की नियमित 
  • मालिश बालों की उचित देख भाल में सहायक होती है। 
  • आंवले बालों के रूखेपन और झड़ने को रोकते हैं। आंवले को अपने भोजन का अभिन्न अंग बनाएं। 
  • तनाव बालों का बड़ा दुश्मन है। तनाव से बचें। 
  • सूखे बालों में सीधा शैम्पू न लगाएं। बालों को गीला कर शैम्पू को थोड़े पानी में घोलकर बालों में लगाएं। हल्के हाथों से बालों को मलकर बाल साफ करें और शैम्पू के बाद अच्छी तरह से पानी से बालों को धोएं। 
  • शैम्पू हमेशा अच्छी कंपनी का प्रयोग में लाएं। यदि कंडीशनर युक्त शैम्पू हो तो वो बालों के लिए अधिक अच्छा होता है नहीं तो बाद में बालों में कंडीशनर लगाएं। 
  • गीले बालों में कंघा न करें न इन्हें बांधे। तौलिए से आराम से दबा कर बालों से पानी निकालें। 
  • बालों की प्रकृति के अनुसार शैम्पू का चयन करें। .रूखे बालों को अच्छी तरह से ब्रश करें ताकि ग्रंथियों से प्राकृतिक तेल का बहाव बढे । 
  • तैलीय बालों के लिए ब्रश का प्रयोग न कर कंघे का प्रयोग करें। ब्रश या कंघा हमेशा हल्के हाथों से करें। 

 

  • यदि बालों में रूसी है तो इसका अर्थ है बालों को अधिक देख-रेख की जरूरत है। रूसी हेतु नारियल के तेल को जरा सा गर्म कर, नींबू का रस उसमें मिलाएं, सिर की त्वचा पर अच्छी तरह लगाएं 
  • और बाद में भाप लें। इस समस्या से छुटकारा मिलने में सहायता मिलेगी। 
  • दही में नींबू का रस निचोड़ कर अच्छी तरह से सिर की त्वचा पर लगाने से 
  • और बाद में शैंपू करने से समस्या दूर होती है। 
  • रूसी को दूर करने के लिए कैमिकल शैम्पू के प्रयोग से बचें। 
  • सामान्य बालों हेतु विटामिनयुक्त सौम्य शैम्पू का प्रयोग करें। 
  • कैमिकल शैम्पू के स्थान पर हर्बल शैम्पू लगाएं। ये बालों को रूखा व कमज़ोर नहीं बनाते। 
  • बालों में ब्लीचिंग व पर्मिंग कम से कम कराएं। ये बालों को समय से पूर्व सफेद बना सकते हैं। 
  • बैंक कॉम्बिंग और हेयर ड्रायर से बाल कमज़ोर होकर अधिक टूटते हैं। उनकी प्रयोग में न लाएं। 
  • रात को सोने से पहले बालों को खोल दें। रबड़, क्लिप, पिन आदि सब निकाल दें। 
  • तेल लगे बालों के साथ बाहर न जाएं क्योंकि बाहर की धूल मिट्टी बालों से चिपकर बालों को नुकसान पंहुचाएगी। 
  • अपना कंघा, ब्रश, तौलिया, हमेशा व्यक्तिगत रखें। कंघा और ब्रश साफ रखें। 

More from my site

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *