जादुई मजेदार कहानियां-दियासलाई बॉक्स 

जादुई मजेदार कहानियां-दियासलाई बॉक्स 

जादुई मजेदार कहानियां-दियासलाई बॉक्स 

बहुत समय पहले की बात है। एक नौजवान सिपाही अपने देश के लिए दुश्मनों से युद्ध करके वापस लौट रहा था। तभी रास्ते में उसकी भेंट एक बूढ़ी औरत से हुई। वह उससे मदद लेना चाहती थी। 

वह बूढी औरत वास्तव में एक जादूगरनी थी। उसने नौजवान सिपाही से कहा, “इस खोखले वृक्ष के तने के नीचे एक बड़ी-सी गुफा है। उसमें एक दियासलाई बॉक्स और खजाना रखा है। तुम उस दियासलाई बॉक्स को लाकर मुझे दे दो और सारा खजाना तुम ले लो।” 

बूढ़ी जादूगरनी ने आगे बताया, “जब तुम गुफा में पहुंचोगे, तो तुम्हें दो दरवाजे दिखाई देंगे। एक दरवाजा बड़ा और दूसरा दरवाजा छोटा होगा। छोटे दरवाजे के पीछे प्यालों जैसी आंखों वाला एक बड़ा-सा कुत्ता होगा। वह दियासलाई बॉक्स की रखवाली करता है। बड़े दरवाजे के पीछे तश्तरी जैसी आंखों वाला एक बड़ा कुत्ता होगा, जो खजाने की रक्षा करता है।” 

बूढ़ी जादूगरनी नौजवान सिपाही को बताती जा रही थी, “तुम उन कुत्तों पर मेरा चोगा डाल देना। वे तुम्हें कोई नुकसान नहीं पहुंचाएंगे। फिर तुम अपनी इच्छानुसार खजाना ले लेना और मेरे लिए दियासलाई बॉक्स ले आना।” तत्पश्चात बूढी जादूगरनी ने नौजवान सिपाही को अपना नीला चोगा दे दिया और वह खोखले वृक्ष के तने में उतर गया। 

नौजवान सिपाही ने ठीक वैसा ही किया, जैसा कि बूढ़ी जादूगरनी ने उससे कहा था। जितना खजाना वह अपनी जेबों में भर सकता था, उतना खजाना उसने भर लिया। फिर वह बूढ़ी जादूगरनी के लिए दियासलाई बॉक्स लेकर ऊपर आ गया। बूढी जादूगरनी नौजवान सिपाही से दियासलाई बॉक्स लेकर उसे उसी गुफा में फेंकना चाहती थी। 

Jadui majedar kahani,

यह बात नौजवान सिपाही ने जान ली थी। अतः उसने डटकर बूढ़ी जादूगरनी का सामना किया और उसे मौत के घाट उतार दिया। उसने खजाने से अपने लिए बहुत-सी चीजें खरीदी और आराम से रहने लगा। 

एक दिन जब नौजवान सिपाही ने वह दियासलाई बॉक्स खोला, तो उसमें उसे एक छोटी-सी माचिस की डिबिया दिखाई दी। जैसे ही उसने माचिस की तीली जलाई, वैसे ही उसके समक्ष दो कुत्ते प्रकट हुए और बोले, “मालिक, हम आपकी क्या सेवा कर सकते हैं?” 

नौजवान सिपाही उस देश की राजकुमारी से विवाह करना चाहता था, अतः उसने कुत्तों से कहा, “राजकुमारी को यहां ले आओ।” बड़ा कुत्ता फौरन राजकुमारी को उठा लाया। वह उसकी पीठ पर सो रही थी। नौजवान सिपाही ने राजकुमारी को बताया कि वह उससे शादी करना चाहता है। इसके बाद उसने उसे महल में वापस भेज दिया। 

अगली सुबह राजकुमारी ने सोचा कि वह रात में कोई सपना देख रही थी। उसने यह बात अपनी मां को बताई। रानी को चिंता होने लगी। रात्रिकाल जब राजकुमारी सोने लगी, तो रानी ने आटे की एक थैली उसकी कमर में बांध दी। उस रात जब नौजवान सिपाही ने राजकुमारी को अपने घर बुलाया, तो आटे से उसके घर तक निशान बन गए और वह पकड़ा गया। राजा ने नौजवान सिपाही को तहखाने में डाल दिया। 

Jadui majedar kahani,

भाग्यवश दियासलाई की डिबिया नौजवान सिपाही की जेब में ही थी। उसके द्वारा माचिस जलाते ही कुत्ते प्रकट हो गए। सभी लोग कुत्ते को देखकर डर गए, लेकिन राजकुमारी ने सपने वाले नौजवान को पहचान लिया। जब नौजवान ने उससे शादी करने के लिए दोबारा पूछा, तो राजकुमारी ने खुशी-खुशी ‘हामी’ भर दी।

—————————————————————

Magical Funny Stories – Matchbox Box

It was a long time ago. A young soldier was returning to his country after fighting with enemies. Then on the way he met an old woman. She wanted to get help from him.

That old woman was actually a sorceress. He said to the young soldier, “There is a big cave under the trunk of this hollow tree. There is a match box and treasure kept in it. You bring that match box and give it to me and take all the treasure.”

The old magician further said, “When you reach the cave, you will see two doors.” One door will be big and other door will be small. Behind the small door will be a large dog with cup-like eyes. He guards the matchbox box. Behind the large door will be a large dog with saucer-like eyes, which guards the treasure. “

The old magician was telling the young soldier, “You put my clothes on those dogs. They will do you no harm. Then you take the treasure as you wish and bring the match box for me. “The old magician then gave the young soldier his blue robe and landed in the trunk of a hollow tree.

The young soldier did exactly as the old magician told him. He filled as much treasure as he could in his pockets. Then he comes upstairs with a matchbox for the old magician. The old magician wanted to take the match box from the young soldier and throw it in the same cave.

The young soldier knew this thing. So, he confronted the old wizard and killed him. He bought many things for himself from the treasury and lived comfortably.

One day when the young soldier opened the match box, he saw a small match box in it. As he lit the matchstick, two dogs appeared before him and said, “Master, what can we serve you?”

The young soldier wanted to marry the princess of that country, so he said to the dogs, “Bring the princess here.” The big dog immediately picked up the princess. She was sleeping on his back. The young soldier tells the princess that he wants to marry her. After this he sent her back to the palace.

The next morning the princess thought she was having a dream at night. He told this to his mother. The queen began to worry. When the princess started sleeping, the queen tied a bag of flour to her waist. That night, when the young soldier called the princess to his house, marks were made from the dough to his house and he was caught. The king put the young soldier in the cellar.

Luckily, the box of Diyasalai was in the pocket of the young soldier. The dogs appeared as he lit a matchbox. Everyone was horrified to see the dog, but the princess recognized the dreamy young man. When the young man asked her again to marry him, the princess happily filled the ‘Hami’.