फटी एड़ियों को कोमल बनाने के घरेलू उपाय |Home remedies to make cracked heels soft

फटी एड़ियों को कोमल बनाने के घरेलू उपाय

फटी एड़ियों को कोमल बनाने के घरेलू उपाय |Home remedies to make cracked heels soft

फटी एड़ियों (वाइयों) में असहनीय दर्द होता है। रातभर पीड़ा होती है तथा नींद नहीं आती है। दरारों से खून निकलता है। उनमें धूल भर जाने से दर्द बढ़ जाता है। एड़ियों न फटें और आपके पैर खूबसूरत दिखें, आइए इसके कुछ उपाय बताएं-

फटी एड़ियों को कैसे बनाएं कोमल

फटी एड़ियों को कैसे बनाएं कोमल

1.सबसे पहले तो एड़ियों को गुनगुने पानी से साफ करके जूतियों का इस्तेमाल करना शुरू कर दें। 

2.मूंगफली का तेल 10 ग्राम, लौंग का तेल 2 ग्राम, राल 5 ग्राम को पकाकर मलहम तैयार कर लें। इसे  फटी एड़ियों ( बिवाइयों )पर लगाएं। 

3.फटी एड़ियों में गाय का  ताजा गोबर लगाएं। इससे फटी एड़ियों  ठीक होती हैं। 

4.10 ग्राम तिल के तेल में 6 ग्राम मोम मिलाकर पका लें। फिर इसे फटी एड़ियों पर लगाएं। 

सर्दियों में फटी एड़ियां  करती हैं परेशान तो अपनाएं ये उपाय

5.नीम की कोमल पत्तियां, नीम की छाल तथा नीम की निबौली को पीसकर देसी घी में मिलाकर मलहम की तरह फटी एड़ियों पर लगाएं।  

6.हाई हील के सैंडल पहनकर ज्यादा चलने-फिरने से अगर पैरों में सूजन आ गई है तो एड़ियों को आराम देने के लिए गुनगुने पानी में 2 चम्मच नमक डालकर 15-20 मिनट पैरों को सेंकें। 

7.एरंड का तेल, मोम और राल को बराबर मात्रा में मिलाकर | पेस्ट बना लें। इसे रात में तथा दोपहर में एड़ियों पर लगाएं। दरारें अधिक फटी हों तो यह मलहम लगाकर छोड़ दें। दर्द कम हो जाता है। 

8.एरंड के बीजों की गीरी 40 ग्राम, मक्खन 50 ग्राम, पोस्त दाना 25 ग्राम तथा नीम की सूखी पत्तियां (पीसकर कपड़े से छनी) 10 ग्राम को पीसकर मिला लें। अब उसमें 5 ग्राम ढेला कपूर डालकर पेस्ट तैयार कर लें। इसे बिवाइयों पर रोज लगाने से एड़ियां मुलायम रहती हैं और त्वचा कोमल होकर एड़ियों भर जाती हैं। 

9.राल 10 ग्राम, मोम 3 ग्राम, घी 10 ग्राम को मिलाकर आग पर पका लें फिर इसे ठंडा करके शीशी में भर लें। दिन में तीन बार इसे बिवाइयों पर लगाएं। कुछ ही दिनों में बिवाइयों का नामो-निशान नहीं रहेगा और एड़ियां मुलायम हो जाएंगी। 

10.सौंफ तथा सूखा धनिया 10-10 ग्राम पीस-छानकर 20 ग्राम देसी घी में मिलाकर इसे फटी एड़ियां पर लगाएं। 

11.गो-मूत्र में थोड़ा-सा गो-घृत मिलाकर अच्छी तरह से फेंट लें। फिर इसे बिवाइयों पर लगाएं। इससे जल्दी आराम मिल जाता है। 

12.हल्दी का चूर्ण और सरसों का तेल मिलाकर फटी एड़ियां पर लगाएं। 

13.राल, कत्था तथा काली मिर्च 40-40 ग्राम तथा गाय का घी और चमेली का तेल 30-30 ग्राम लेकर अच्छी तरह से घोंट लें। यह बिवाइयों के लिए बहुत ही अच्छा माध्यम है। 

14.गरम पानी में शैंपू डालकर एड़ियों को 10-15 मिनट उसमें रखें और जब त्वचा नरम पड़ जाए तब पानी से निकालकर खुरदरे तौलिये से रगड़-रगड़कर पोंछ लें। फिर जैतून के तेल से एड़ियों की मालिश करें, इससे धूल से फटने वाली  एड़ियां में तुरंत आराम मिल जाता है। 

15.गर्मियों में पैरों में पसीना बहुत आता है। इससे बचने के लिए सोने से आधा घंटे पहले फिटकरी मिले पानी से अपने पैर अच्छी तरह धोएं। इस उपाय से पसीना आना धीरे-धीरे कम होगा और संक्रमण से भी बचाव होगा। पैरों को पानी से निकालकर सुखाएं। फिर किसी अच्छी कंपनी की फुटक्रीम से मसाज करें। गर्मियों में पैरों की त्वचा जल्दी काली पड़ जाती है। इसके लिए आप महीने में एक बार पैरों पर ब्लीज भी कर सकती हैं। प्रतिदिन नहाने के बाद पैरों पर मॉइश्चराइजर या फुटक्रीम का प्रयोग भी कर सकती हैं। 

16.सप्ताह में एक बार गुनगुने पानी में नीबू का रस, ऑलिव ऑयल डालकर 15 मिनट तक पैरों को डुबोकर रखने के बाद उन्हें प्यूमिक स्टोन या स्क्रबर से साफ करे। 

17.फटी एड़ियों को धो-पोंछकर ही उपरोक्त में से किसी भी एक नुस्खे का प्रयोग करें। एक ही नुस्खा एड़ियों को कोमल बनाने में सक्षम है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

five + 4 =