Hollywood hindi dubbed movie download-(web series download)हॉलीवुड मूवी डाउनलोड करने के लिए टॉप वेबसाइट

Hollywood hindi dubbed movie download

Hollywood hindi dubbed movie download-web series hindi

hollywood movie-यहां पर दी गई वेबसाइट के जरिए आप Hollywood Hindi dubbed movie, Bollywood movie or South Hindi dubbed movie, series movie डाउनलोड कर सकते हैं।

Hollywood movie in Hindi

top website for movie download

Disclaimerयाद दी गई वेबसाइट के जरिए आप मूवी डाउनलोड कर सकते हैं लेकिन हमेशा याद रखें आपको कभी भी फिल्म देखने के लिए OTT प्लेटफॉर्म जैसे अमेजॉन प्राइम वीडियो, नेटफ्लिक्स इत्यादि पर देखना चाहिए। यह वेबसाइट आपको सिर्फ जानकारी मुहैया कराने  के लिए की गई है डाउनलोड का बढ़ावा देने के लिए नहीं।


Latest movie download by best website

bollywood

Tandav (2021) Season 1 [Prime Video] WebSeries Download (Hindi DD5.1 ORG Audio) Web-DL | 480p | 720pnew

Download 12 O’Clock (2021) Hindi Movie Pre- DvD Rip || 480p [350MB] || 720p [850MB]

Download The Power (2021) Hindi Movie WEB – DL || 480p [450MB] || 720p [800MB] || 1080p [1.7GB]new

Download Master (2021) Hindi Movie Pre- DvD Rip || 480p [520MB] || 720p [1.4GB]-new

Download Paurashpur 2020 (Season 1) Hindi {ALT Balaji Series} WeB-DL || 480p [450MB] || 720p [1GB] || 1080p [2GB]

Download Chanakya (2019) Hindi Movie WEB – DL || 480p [500MB] || 720p [700MB] || 1080p [2.6GB](south latest movie)

Download Criminal Justice: Behind Closed Doors 2020 (Season 1) Hindi {Hotstar Series} WeB-DL || 480p [1GB] || 720p [3GB] || 1080p [7.2GB]

—————————————————

hollywood latest hindi dub best movie

Download Outside the Wire (2021) Dual Audio {Hindi-English} WeB-HD 480p [380MB] || 720p [1GB] || 1080p [2.6GB]new

Download Monster Hunter (2020) Dual Audio (Hindi-English) HDCAM 480p [300MB] || 720p [900MB]-new

Download Wonder Woman 1984 (2020) Dual Audio {Hindi Clean Audio – English} Bluray 480p [500MB] || 720p [1.3GB] || 1080p [2GB]

Download Mulan (2020) Dual Audio (Hindi-English) 480p [400MB] || 720p [1GB]  1080p [3.2GB]

Download Tenet (2020) Dual Audio (Hindi-English) 480p [500MB] || 720p [1.3GB] || 1080p [3.8GB]


hollywood animation latest movie

Download The Big Trip (2019) Dual Audio (Hindi-English) 480p [300MB] || 720p [900MB] || 1080p [1.6GB](new

The Croods: 2 New Age 2020 Dub in Hindi Full Movie HD Download FilmyHit

Download Up And Away (2018) Dual Audio (Hindi-English) 480p [300MB] || 720p [850MB]


top website for movie download

1.https://moviesflixpro.net/

https://themoviesflix.net/-Bollywood movie,bollywood webseries

https://bollyflixhd.best/

2.https://themoviesflix.com/

3.https://hdmovieshub.mobi/

4.https://moviesrush.in/

5.https://www.moviemad.us/

6.https://filmyhit.site/

7.https://www.pagalmovies.surf

8.https://katmoviehd.se

katmovieHD.world

9.https://yeshollywood.co/

10.https://www.ofilmywap.cyou/

———————————————————————–

11.https://filmyzilla.com/

https://afilmy4wap.in/

12.https://movies4me.live/

13.https://hdmoviearea.cc/

14.https://9xmovies.land

15.https://filmyzillahd.mobi/

16.https://okjatt.site/

17.http://www.movieloverz.org/

18.https://dvdvilla.me/

https://skymovieshd.fit/

https://movieskub.site/

https://bollyflix.me/

https://hdmoviearea.site/

https://desiremovies.bar/

https://moviezxo.xyz/

https://hdwebmovies.fun/

 

https://www.mp4moviez.host/

 

hollywood movies

hollywoodयहां पर इस ब्लॉग पोस्ट के  सबसे नीचे दी गई वेबसाइट के जरिए आप फिल्म डाउनलोड कर सकते हैं।इस वेबसाइट के जरिए आप लेटेस्ट बॉलीवुड मूवी हॉलीवुड हिंदी डब मूवी साउथ मूवी अब बहुत सारी कॉमेडी रोमांटिक एनिमेशन हॉरर जो आपको पसंद हो यहां से देख सकते हैं।

Here you can download the movie through the website given at the bottom of this blog post. Through this website you can watch the latest Bollywood movie Hollywood Hindi dubbed movie South Movie from now on. .

Hollywood movie kaise download Karen

वैसे तो इंडियन लोग को फिल्म बहुत पसंद होती है लेकिन आजकल हॉलीवुड मूवी का भी बहुत पसंद करने लगे है। खासकर बच्चे और यंग ब्वॉय हॉलीवुड मूवी को बहुत पसंद करते हैं। मार्वल मूवी जैसे अवेंजर, आयरन मैन, कैप्टन अमेरिका इसी तरह की बहुत सारी हॉलीवुड फिल्में जो लोगों को बहुत आकर्षित करती है।

इंडिया सिनेमा जगत पूरी दुनिया से बहुत बड़ा नेटवर्क फैला हुआ है यहां पर बहुत सी भाषाओं में फिल्म रिलीज की जाती है हॉलीवुड मूवी को हिंदी डब भी की जाती है खासकर यहां हिंदी भाषी लोग बहुत ज्यादा है जो हर फिल्म को हिंदी भाषा में देखना चाहते हैं।

हिंदी सिनेमा और साउथ सिनेमा परिवारिक, एक्शन, रोमांटिक और कमोडी बहुत सारी कहानियां पर आधारित होती है जो फिल्म लोगों को एक सीख देकर जाती है

हॉलीवुड मूवी में स्पेशल इफेक्ट जो बहुत ज्यादा उपयोग किया जाता है जो इसलिए फिल्म लोगों को बहुत भाता है फिल्म बहुत सारी भाषाओं रिलीज होती है। यहां की एनिमेशन मूवी जो अब 3डी में आने लगी है जो जो सभी को भाने लगा है खासकर बच्चे बहुत ज्यादा पसंद करते हैं हर कहानी बचपन की पड़ी हुई स्टोरी स्टोरी की तरफ बहुत प्रेरित करती है।

बॉलीवुड मूवी में डांस, एक्शन, परिवारिक ड्रामा और हिंदी गाना बहुत अच्छा अच्छा होता है जो लोगों को बहुत भाता।

फिल्में देखकर लोगों को खुशियां एंजॉयमेंट और बहुत समय के थकान दूर होता है। फिल्म लोगों को अच्छी सीख भी देती है यदि फिल्म को सही तरीके से देखा जाए उसमें किसी देखी गई अच्छी  चीज को कवर किया जाए।  

hollywood hindi dubbed movie download

फिल्मी में जो काल्पनिक चीजें होते हैं उसे कभी रियल दुनिया से मिलाना नहीं चाहिए फिल्म एक बनी बनाई कंप्यूटराइज, स्पेशल इफेक्ट और फिल्म दिखाई जाने वाली एक्शन सीन रियलिटी नहीं होती है जिसे देख कर अपने जीवन में लागू नहीं करना चाहिए। फिल्म जहां देखे वहीं पर शिवबाची सीख लेकर आए और सभी चीज भूल जाए। 

आजकल के फिल्मी दुनिया पहले की तरह हर फिल्म परिवारिक नहीं होती है आजकल वेब सीरीज जो लोग बहुत पसंद आती है लेकिन जो बिना रोक-टोक के 18+वीडियो भी प्रस्तुत कर देते जो शादीशुदा जीवन के लिए तो ठीक है लेकिन बच्चों के लिए अच्छी नहीं है आजकल मोबाइल के द्वारा इन वेब सीरीज को छोटे बच्चे भी देख देख लेते हैं। फिल्म जीवन में लोगों को अच्छी सीख और दुनिया के बुराइयों से बचाने के लिए ही बनानी चाहिए

hollywood hd movie download

आज का सिनेमा जगत लोगों को कमाई का बहुत बड़ा जरिया बन गया है इस फिल्म में करोड़ों अरबों  की कमाई होती है। फिल्म के जरिए सरकार को बहुत बड़ा टैक्स जो लोगों को विकास में और देश के विकास में उपयोग किया जाता है और इस फिल्म के कारण बहुत से लोगों को रोजगार भी मिलता है। हमारे जीवन का अति उपयोगी साधन भी हो गया है।

यू तो फिल्म में अच्छाई बुराई सभी चीज होती है लेकिन हम पर डिपेंड करता है कि हम फिल्म से क्या ले रहे हैं क्या सीख रहे हैं या सिर्फ मनोरंजन के लिए ही देख रहे हैं यह हम पर डिपेंड करता है।

आजकल की फिल्मों में लव सिंन पर बहुत ज्यादा जोर दिया जा रहा है जो आने वाले पिडियो और बच्चों के लिए अच्छी नहीं है। आजकल के बच्चे कम उम्र में ही यह ज्ञान प्राप्त कर ले रहे हैं जो उनके भविष्य के लिए अच्छा नहीं है।

 इसके कारण गार्जियन को बच्चे संभालने में बहुत दिक्कत का सामना करना पड़ता है। मुझे अच्छी सीख दी जाती है लेकिन यह सब चीज उनके मन को अलग दिशा दे डालती हैं जिसके कारण आज के समय में बहुत सी घटनाएं लड़कियों की तरफ बढ़ रही है। फिल्म लोग बहुत से गलत गलत चीज देखकर अपने जीवन में भी उतार ले रहे हैं जो अच्छी बात नहीं है।

आजकल बॉलीवुड जगत को चाहिए कि कोई भी फिल्म बनाने में महिला के खिलाफ गलत सीन के ना दिखाया जाए हर फिल्म को परिवारिक बनाने की कोशिश करें जो पूरी फैमिली एक साथ बैठकर देख सेके। जो आजकल में अधिकतर  फिल्में यह सब नहीं हो रहा हमें कोई भी फिल्म अकेले ही देखना पसंद करते हैं अपने फैमिली के साथ में बैठकर नहीं देख सकते।

हॉलीवुड फिल्में भी अच्छी होती है रोमांचक तू भी होती है इस बहुत सी ऐसी चीज दिखाती है जो दुनिया में अभी नहीं है यह लोगों को रोमांचित करती है लेकिन फिल्म लो लोगों को टाइमपास मनोरंजन करने के लिए बहुत अच्छा होता है और अकेलापन भी दूर करने के लिए के लिए होता है।

फिल्म जैसे देखे अकेले देखे सिनेमा हॉल में देखें गर्लफ्रेंड के साथ देखें फैमिली के साथ देखें बच्चों के साथ देखें भारत में हर तरह की फिल्में उपलब्ध है खासकर कॉमेडी फिल्म लोगों को मन खुश कर देता है यदि फिल्म अच्छी हो तो बिना फिल्म जीवन अधूरा सा लगने लगेगा यह हमारे जीवन का एक उपयोगी चीज हो गया है जिसके बिना हम अपने जीवन की खुशियां साधन सा बन गया। बच्चे, बूढ़े और जवान फिल्म सभी को पसंद आती है।

आज के समय में बिना फिल्म जीवन अधूरा सा लगता है यह हमारे जीवन का एक साथी ही बन गया है।

film story

फ्लाइट 401 का भूत 

संभवतः यह भूत की सबसे प्रामाणिक और असाधारण घटना है जो दिसम्बर 1972 में घटी थी। उस दिन ईस्टर्न एयरलाइंस का तीन सितारा जेटलाइनर फ्लाइट 401 फ्लोरिडा में दुर्घटनाग्रस्त हुआ, जिसमें पायलट बॉब लॉफ्ट और फ्लाइट इंजीनियर डॉन रिपो समेत कुल 101 लोग मारे गए थे। 

इस दुर्घटना के कुछ समय बाद ही चालक कर्मचारियों को उनके भूत दिखाई पड़े। खासकर उन लोगों को उनके भूत दिखाई पड़े जो ऐसे विमानों में काम कर रहे थे जिनमें फ्लाइट 401 विमान के मलबे में बचे हुए पुर्जे लगाए गए थे। दिलचस्प तथ्य तो यह कि उनके भूत न केवल उन लोगों को दिखाई दिए जो उनको जानते थे बल्कि ऐसे लोगों के खींचे गए फोटोग्राफ में भी नजर आए जो उनको जानते तक नहीं थे। 

ट्राई स्टार 318 विमान में फ्लाइट अटेन्डेन्ट फाये मेरी वेदर को रिपो का चेहरा विमान में दिखाई जो उसकी तरफ झांक रहा था। इससे चौंक कर उसने अपने दो साथियों को तुरंत बुलाया दिया। उनमें से एक फ्लाइट इंजीनियर था और रिपो का दोस्त रह चुका था। उन तीनों ने रिपो को चेतावनी देते सुना कि इस विमान में आग लग सकती है। बाद में उस विमान में उड़ान के दौरान गंभीर यांत्रिक खराबी आ गई और उसकी अंतिम उड़ान रद्द करनी पड़ी। दिलचस्प तथ्य यह था कि उस विमान में दुर्घटनाग्रस्त विमान की गैली लगाई गई थी। 

तीनों ने इस घटना की रिपोर्ट फ्लाइट सेफ्टी फाउंडेशन को दी, जिसने यह माना कि सूचना पायलट और विमान कर्मचारियों जैसे जिम्मेदार लोगों ने दी है जिसे हम गंभीर मानते हैं। फ्लाइट इंजीनियर ने रिपो के वहां होने की पुष्टि की है। बाद में उसी विमान में एक उड़ान के दौरान आग लग गई थी। ईस्टर्न एयरलाइंस के एक उपाध्यक्ष जे. के. एफ. कैनेडी हवाई अड्डे पर। 

मियामी के एक ट्राई स्टार विमान में सवार हुए। थोड़ी देर बात करते ही उन्हें अहसास हुआ कि शायद कैप्टन गायब हो गया। वह लॉफ्ट का भूत ही था। बाद में विमान के कैप्टन को रिपो दिखाई दिया। रिपो ने उससे कहा कि अब कोई भी विमान दुर्घटनाग्रस्त नहीं होगा। हम इसका ख्याल रखेंगे। 

एक कैप्टन और दो फ्लाइट अटेन्डेन्ट जब हवाई अड्डे पर आए तो उनका मुलाकात फ्लाइट इंजीनियर लॉफ्ट के भूत से हो गई। वे लॉफ्ट को पहचानते नहीं थे। लॉफ्ट का भूत उनसे विमान की उड़ान के बारे में बातें करता रहा। बात पूरी होते ही उनके देखते-देखते वह भूत हवा में विलीन हो गया। वे तीनों इतने घबरा गए कि उन्होंने विमान की वह उड़ान ही रद्द कर दी। 

एल-1011 पैसेन्जर विमान में फ्लाइट 401 विमान के कुछ पुर्जे लगाए गए थे। वह विमान उड़ान भरने वाला ही था कि फ्लाइट इंजीनियर उसकी जांच करने के लिए आए और विमान की जांच करने लगे। तभी उनके सामने रिपो का भूत आया और उसने कहा, ‘आप किसी प्रकार की चिंता न करें। मैंने इस विमान की उड़ान पूर्व की जांच कर ली है।’ 

एक महिला यात्री ईस्टर्न एयरलाइंस के एक विमान में सफर कर रही थी तो उसके पास एक अन्य यात्री ईस्टर्न एयरलाइंस के कर्मचारियों की ड्रेस में बैठा था। वह बहुत बीमार लग रहा था। उसने उससे बात करने की चेष्टा की। लेकिन उसकी हालत इतनी खराब थी कि वह कुछ बोल भी नहीं पा रहा था। 

यह देखकर उसने तुरंत विमान परिचारिका को आवाज दी। जब तक कि विमान परिचारिका वहां पहुंचती, वह आदमी गायब हो चुका था। बाद में उस महिला यात्री को जब ईस्टर्न एयरलाइंस के इंजीनियरों का फोटो दिखाया गया तो उसने तुरंत रिपो के फोटो को देखकर पहचान लिया कि वह आदमी रिपो ही था। 

रिपो को एक फ्लाइट इंजीनियर ने एक विमान के काकपिट के नीचे के कम्पार्टमेंट में भी देखा, जहां वह फ्लाइट इंजीनियर कोई आवाज होने पर यह देखने के लिए गया था कि आखिर यह आवाज कौन कर रहा है। फ्लाइट इंजीनियर के आते ही रिपो का भूत गायब हो गया। इस कारण फ्लाइट 401 के विमान चालकों के भूत की कहानियां चर्चा का विषय बनती गईं। 

सन् 1974 के यूएस फ्लाइट फाउण्डेशन के न्यूजलैटर में भी इसकी चर्चा छपी। बाद में जॉन जी. फुलर ने अन्य जागरूक विमान कर्मचारियों की मदद से इस मामले की गहनता से जांच की, जिससे कई प्रमाण इसके बारे में उपलब्ध हो पाए। 

इस विमान दुर्घटना का कारण यह बताया गया कि इसके कंट्रोल की डिजाइन 

में कुछ छोटी खामियां रह गई थीं जिन्हें बाद में ठीक कर लिया गया। इसके बाद दुर्घटनाग्रस्त विमान के वे हिस्से जो टूट-फूट से बच गए थे, उन्हें रिसाईकिल करके अन्य विमानों में काम में ले लिया गया। इसके बाद ही कई रहस्यमय घटनाएं हुईं। 

हालांकि ईस्टर्न एयरलाइंस के अधिकारियों ने इस मामले में कोई बातचीत करने से इंकार कर दिया। लेकिन अनुसंधानकर्ताओं ने बाद में कई लोगों से साक्षात्कार किया। जिनसे यह पता लगा कि लॉफ्ट और रिपो ने अपनी मौत के बाद का सारा समय विमान के कर्मचारियों और यात्रियों पर निगाह रखने में ही लगा दिया।

story-चाय के प्याले द्वारा भविष्यवाणी 

चाय के प्याले द्वारा भविष्यवाणी करने की बात सुनकर निश्चित ही आप चौक रहे होंगे। आप सोच रहे होंगे कि भला चाय का प्याला जो कि एक मृत पदार्थ है भविष्यवाणी कैसे कर सकता है। किन्तु चौंकिए नहीं। आपको चाय के प्याले की एक ऐसी अनोखी भविष्यवाणी से यहां पर अवगत कराया जाएगा जो शत-प्रतिशत सत्य साबित हुई। 

अब प्रश्न यह उठता है कि क्या चाय के प्याले में भी अतीन्द्रीय शक्ति विद्यमान रह सकती है? क्योंकि बिना अतीन्द्रीय शक्ति के भविष्य कथन की कल्पना करना काफी कठिन प्रतीत होता है। अतीन्द्रीय शक्ति के चमत्कार किन्हीं-किन्हीं में और कभी-कभी ही दीख पड़ते हैं। 

इससे यह ज्ञात होता है कि इनमें वे अंकुर मौजूद हैं जो सामान्य प्राणियों में नहीं होते। किन्तु आप कहेंगे कि चाय का प्याला तो प्राणियों की कोटि में भी नहीं आता। भला वह भविष्यवाणी करे, यह बड़ी विचित्र बात होगी। 

आत्म शक्ति से सम्बन्धित अलौकिक एवं अद्भुत क्षमताओं के जब उदाहरण हमारे सामने आते हैं तो यह स्पष्ट हो जाता है कि मनुष्य के अतिरिक्त अन्य किसी में भी ऐसी क्षमता नहीं है। किन्तु जब चाय के प्याले का नाम आता है तो हमें हैरत होती है, तो लीजिए अपनी हैरत को मिटाइए और चाय के प्याले की भविष्यवाणी सुनिए। 

मार्टिन इबोन की पुस्तक ‘टू एक्सपीरीयेन्स इन प्रोफेंसी’ में वाल्टर जे. मैसी की एक अनुभूति प्रकाशित है। उसमें लेखक की पत्नी द्वारा चाय के प्याले में एक ऐसी भयानक भविष्यवाणी का उल्लेख है जो सिर्फ दो सप्ताह के भीतर ही शत-प्रतिशत सत्य सिद्ध हो गई। 

घटनाक्रम के अनुसार एक दिन उनके मित्र मि. हाफमैन उनके घर पर चाय पीने के लिए आमंत्रित किए गए। चाय छानी जा रही थी कि उनकी पत्नी ने उस प्याले में तैरता हुआ एक घटनाक्रम फिल्म की तरह देखा। किसी होटल के मैनेजर को पिस्तौल से मारकर एक हत्यारा एक कार में सवार होकर भागा जा रहा है। दो मोटर साइकिलें उसका पीछा कर रही हैं। हत्यारे ने पीछा करने वालों पर गोली चलाई। उनमें से एक मोटरसाइकिल सवार मारा गया। 

अन्ततः हत्यारा कार छोड़कर एक अधबनी झोपड़ी में घुस गया। उसे पड़ोस में रहने वालों ने देखा और पुलिस को पकड़वा दिया। यह दृश्य एकदम खौफनाक था, जिसके प्रभाव के कारण चाय छानते हुए महिला अर्द्धमूच्छित हो गई और प्याला उसके हाथ से छूटकर जमीन पर गिर पड़ा। 

कुछ समय बाद बेचारी महिला को होश आया तो उसने चाय के प्याले के अन्दर जो कुछ दृश्य देखा था, वह सब कुछ उन्हें बता दिया। बात का अत्यन्त विस्मय के साथ सुना गया किन्तु इस बात की यथार्थता पर किसी को भी विश्वास नहीं हुआ, क्योंकि बात ही अविश्वास के योग्य थी। उसे मात्र मजाक समझ कर टाल दिया गया। बात का सिलसिला समाप्त हुआ और वह समाप्त हो गई। किन्तु महिला के मस्तिष्क पर चाय के प्याले की भविष्यवाणी का प्रभाव ज्यों का त्या बना रहा। वह सिर्फ एक बात यह कहती कि या तो यह घटना घटित हो चुका होगा या घटित होने वाली है। महिला का विचार था कि घटनाक्रम से कम से कम पुलिस को तो अवगत करा ही दिया जाना चाहिए। 

पुलिस में इस बात की रिपोर्ट दर्ज कराई जाए अथवा नहीं। इस प्रश्न को लेकर पति-पत्नी में दो दिन तक विवाद होता रहा। पति का दावा था कि पुलिस के लिए यह आधार जैसी कोई बात नहीं है। अत: रिपोर्ट का अर्थ ही क्या होगा। किन्तु पत्नी पर इस घटना का गहरा प्रभाव था अत: जीत आखिरकार उसी की हुई। अन्त में यह निर्णय लिया गया कि उक्त घटना की रिपोर्ट पुलिस में करानी ही चाहिए। 

दो दिन की लम्बी बहस के बाद पति-पत्नी दोनों निकटस्थ पुलिस स्टेशन पहुंचे और चाय में दिखलाई दिए हत्यारे का हुलिया तथा पोशाक सहित सारी सूचना प्रस्तुत की तो पुलिस स्टेशन के अधिकारियों को इस विचित्र बात पर हंसी आ गई और उन्हें मात्र सनकी समझा गया। रिपोर्ट तो उन्होंने लिख ली किन्तु बड़ी बेरुखी के साथ इसकी सूचना की फाइल एक बेकार समझी जाने वाली रिपोर्ट की फाइल में दबा दी गई। 

पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट दर्ज कराए अभी पूरे दो सप्ताह भी नहीं गुजर पाए थे कि ठीक एक ऐसी ही घटना का विवरण दैनिक पत्रों ने प्रकाशित किया। विवरण के अनुसार केलीफोर्निया के एक होटल के मैनेजर की तिजोरी से बहुत सा धन लूटने और उसे गोली से मार डालने का वह विवरण बड़ा सनसनीखेज था, साथ ही उस समाचार में यह विवरण भी था कि हत्यारे का पीछा करने वाले दो मोटर साइकिल सवार पुलिसमैनों में से एक हत्यारे की गोली से मारा गया। बाद में एक अधबनी झोंपड़ी में हत्यारा लूट के धन के साथ पकड़ा गया। 

यह समाचार स्वयं वाल्टर मैसी और उनकी पत्नी (जिसने यह दृश्य देखा था।) पुलिस स्टेशन गए और पन्द्रह दिन पूर्व की उनकी सूचना का विवरण देखने का अनुरोध किया। 

इस बात पर सारा पुलिस स्टेशन आश्चर्य में पड़ गया कि क्योंकर इतने दिन पूर्व की घटना अक्षरशः सत्य निकली और पुलिसमैन के मारे जाने तथा रंगेहाथों हत्यारे के पकड़े जाने का घटनाक्रम सही निकला। 

बाद में चाय के प्याले की यह अद्भुत भविष्यवाणी और उसका महिला देखा गया पूर्ण विवरण समाचार पत्रों में भी बड़े जोर-शोर से प्रकाशित हाक चाय के प्याले के प्रसंग को लेकर काफी समय तक चर्चा बनी रही। 

ऐसा ही एक अन्य विवरण भी बड़ा कौतुहलपूर्ण और विचित्र सा लगता है। 6 अप्रैल, 1974 को इंग्लैण्ड का अति चमत्कारी जादूगर राबर्ट हडची की मौवीं वर्षगांठ मनाई गई। निश्चय ही राबर्ट हडची अपने समय का एक अनोखा व्यक्ति था। उसके जीवनकाल में ही इंग्लैण्ड के प्रसिद्ध दैनिक समाचार पत्र डेली मिरा ने उसके चमत्कारों पर कई प्रकार के लांछन लगाए थे और उसकी चमत्कारिता पा शंका प्रकट की थी। 

राबर्ट ने अपने लांछनों को निराधार मानते हुए उन्हें गंभीर चुनौती दी। चुनीती। के परिणामस्वरूप परीक्षण के समय उसने यह करतब सबके सामने दिखाया जिसे देखकर लोग दंग रह गए। 

राबर्ट हडची को लोगों ने पूरी सावधानी और मजबूती के साथ हथकड़ी और बेड़ियों से जकड़ दिया। किन्तु वह दो मिनट में ही उन्हें कच्चे धागे की तरह तोड़कर फेंकने में सफल हो गया। बाद में हडची को एक कमरे में बन्द करके कमरे का ताला लगा दिया गया। किन्तु लोगों ने देखा कि हडची मुस्कराता हुआ कमरे से बाहर निकल आया। 

इससे भी अधिक आश्चर्यजनक कमाल यह है कि उसे सुरंग में बन्द कर दिया गया। अवरोध भी सुरंग के मुंह पर कुछ कम नहीं लगाए गए थे, फिर भी वह सारे अवरोधों को निहत्था ही तोड़कर मुस्कराता हुआ बाहर निकला। 

यह सब किस प्रकार से सम्भव हो सका, इसका रहस्योद्घाटन उसकी शताब्दी के समय किया गया जबकि उसकी वसीयत को लोगों ने अपनी आंखों से देखा। यह वसीयत हडची ने सर्वसाधारण की जानकारी के लिए लिखकर अपने जीवनकाल में ही रख दी थी। 

भविष्यवाणी करने वाले लोग अतीन्द्रीय सत्ता के धनी बेशक हों किन्तु कई बार असामान्य लोगों में भी ऐसी शक्ति आ जाती है कि वे भविष्यवाणी कर देते हैं और बात सत्य निकलती है। 

पिछली बार अमेरिका के सुप्रसिद्ध समाचार पत्र ‘न्यूयार्क टाइम्स’ ने अंतरिक्ष विज्ञानी राबर्ट गोगार्ड से अपनी उस टिप्पणी के लिए माफी मांगी जो उसने सन् 1920 में छापी थी। बात इस प्रकार की है कि अंतरिक्ष वैज्ञानिक राबर्ट गोगार्ड उन दिनों अंतरिक्ष सम्बन्धी शोधों में लगे हुए थे। उन्होंने भविष्यवाणी की थी कि शून्य आकाश में रॉकेटों का चलाया जाना सम्भव है और उस आधार पर अन्तर्ग्रहीय यात्राएं भी की जा सकेंगी। 

सन् 1920 में उनकी इस भविष्यवाणी का ‘न्यूयार्क टाइम्स’ ने न केवल मजाक उड़ाया था बल्कि उनकी इस भविष्यवाणी पर व्यंग्य करते हुए लिखा था ‘गोगार्ड महाशय विज्ञान की लम्बी-चौड़ी बातें करते हैं, किन्तु वे जानते उतना भी नहीं जितना कि पढ़ने वाले स्कूली बच्चे। जिन्हें पृथ्वी की गुरुत्वाकर्षण शक्ति का ज्ञान होगा वह कैसे कह सकता है कि रॉकेट उस आवरण को वेध कर ऊपर निकल जाएंगे और अन्य ग्रहों की यात्रा करेंगे। 

गोगार्ड ने टिप्पणी पर अपनी कोई भी प्रतिक्रिया व्यक्त नहीं की। आखिरकार उस टिप्पणी के 49 वर्ष बाद गोगार्ड का प्रतिपादन सत्य सिद्ध हुआ। कैप कैनेडी रॉकेट से सवार होकर नील आर्म स्ट्रांग और उनके साथी चन्द्रमा पर पहुंचे। इस पर न्यूयार्क टाइम्स ने 49 वर्ष पूर्व की टिप्पणी के लिए स्वर्गीय गोगार्ड से क्षमा मांगी कि उन्हीं की भविष्यवाणी और प्रतिपादन सही था और टिप्पणीकर्ता गलती पर था। 

उस समय जलयानों की सम्भावना भी अवास्तविक लगती थी। नेपोलियन बोनापार्ट इंग्लैण्ड पर हमले की तैयारी कर रहा था। इसी समय एक इन्जीनियर राबर्ट कुल्टन यह योजना लेकर नेपोलियन के पास पहुंचा कि किस प्रकार भाप से चलने वाले जलयान बन सकते हैं और उनसे शत्रु के दांत खट्टे किए जा सकते हैं। 

इन्जीनियर कुल्टन की अजीब बात पर नेपोलियन झल्ला पड़ा और बोला, ‘आप यह क्या बकवास कर रहे हैं। आग पर पानी गर्म करके उससे हवा के रूख और पानी की धार काटते हुए जहाज चल सकते हैं। ऐसी बेतुकी सनक सुनने की मुझे फुरसत नहीं है।’ 

बेचारा इन्जीनियर हताश होकर चला गया। जलयान बनने लगे और चलने लगे तब भी लोगों ने इस प्रयास का मजाक उड़ाया। डब्लिन की रायल सोसायटी के सामने अपना अभिमत प्रस्तुत करते हुए प्रो. लोडस्कर ने कहा, ‘ये मामूली मनोरंजन कर सकते हैं, पर इन जलयानों से अटलांटिक पार करने की कल्पना बेहूदी है।’ 

उस समय की राबर्ट कुल्टन की भविष्यवाणी आज किस प्रकार से सही सिद्ध हो रही है उसे हर कोई देख सकता है। 

इसी प्रकार जब टैंक बनाने की योजना लाई गई तो इंग्लैण्ड के प्रधान सेनापति ने कहा कि लोहे की गाड़ियां कहां घुड़सवारों का स्थान ग्रहण कर सकती हैं। यह कल्पना नितांत मूर्खतापूर्ण है और आजकल लोग टैंकों के युद्ध देख व सुन रहे हैं। ऐसे ही सरस ने जब पहले पहल अंतरिक्ष यान यूनिक आकाश में निजात  समस्या को किस प्रकार से प्रभावित कर सकती है। इसका कोई भी साल इस समय यह बात व्यर्थ की सी लगती थी किन्तु भव तरिक्ष यान गयो महत्वपूर्ण भूमिका निभातें दीखते हैं और उसी प्रतिद्वन्दिता मेजाचा खरो रुपया विचार क्रांति पर भविष्यवक्ताओं ने अनेकी भविष्यवाणियों की किन्तु लोगों को ये भविष्यवाणियां तब अखरी थीं। 

किन्तु जब भारत के प्रख्यात वैज्ञानिक मा जगदीश चन्द्र बसु और इटली के वैज्ञानिक मार्कोनी ने रेडियो का आविष्कार किया तब भी लोगों को विश्वास नहीं हुआ। तब उसे कौतूहल के साथ देखा गया । पर जब यह कहा गया कि उससे अटलांटिक पार भी सन्देश भेजे जा सकते हैं तो तत्कालीन वैज्ञानिकों ने उसे नामुमकिन बताते हुए दलील दी कि ऐसा तभी हो सकता है जब अमेरिका द्वीप जितना विशाल रेडियो स्टेशन खड़ा किया जा सके। किन्तु अब लोग देख रहे हैं कि रेडियो कितने छोटे-छोटे तैयार हो गए हैं और उनके प्रसारण स्थल भी काफी छोटे हैं। भविष्यवाणी आखिर सत्य निकली। 

उस वक्त युद्ध उपकरणों की खोज को आगे जारी रखने को निरर्थक बतलाते हुए रोम के बड़े सैनिक इन्जीनियर जूलियस कोण्टिनस ने कहा था, ‘ अब इन प्रयत्नों को बन्द कर देना चाहिए। क्योंकि युद्ध उपकरणों के सम्बन्ध में जितने आविष्कार सम्भव थे, वे चरम सीमा तक पहुंच गए हैं।’ इसी तरह सन् 1899 में अमरीकी आविष्कारक पेटेन्स विभाग के डायरेक्टर ने तत्कालीन राष्ट्रपति मैकमिल्ले को यह सलाह दी थी कि अब इस विभाग को बन्द कर दिया जाए। क्योंकि जितने आविष्कार अब तक हो चुके हैं, उनसे आगे कोई गंजाइश नहीं है। किन्तु इसके विपरीत भविष्यवक्ताओं ने कहा था कि हथियारों तथा अन्य उपकरणों की खोज बहुत कुछ आगे बढ़ेगी। सो सही साबित हुई

 

 

 

More from my site