दस्त रोकने के घरेलू उपाय- home remedies for loose motions (diarrhea) in Hindi

दस्त रोकने का उपाय

दस्त रोकने के घरेलू उपाय-Dast rokane ka upay

जब भी किसी का पेट ख़राब होता है, और वह बार बार बाथरूम की तरफ भागे, समझ जाइये उसे दस्त हो गए है| यह एक बहुत आम बीमारी है, लेकिन जब कभी हो जाये, तो इन्सान परेशान हो जाता है| इसमें पूरा शरीर ऐसा थक जाता है जैसे हमने कोई बहुत मेहनत वाला काम किया है|

ऐसा होने पर बार बार बाथरूम जाना थोडा अजीब लगता है, लेकिन इस पर हमारा जोर नहीं चलता| दस्त होने पर हमारे शरीर के अंदर का पूरा पानी निकल जाता है और हम कमजोर हो जाते है| यह डायरिया का ही रूप है जिसमें शरीर में पानी की कमी हो जाती है और दस्त होने लगते है| यह बच्चों को बहुत जल्दी होता है, क्यूंकि वो कम पानी पीते है| इसमें पेट में दर्द, कमजोरी, बुखार जैसी शिकायतें होती है |

दस्त होने के कारण (Dast hone ka karan)

  • फुड posioning 
  • किसी खाने की चीज से एलर्जी की वजह से 
  • पाचन तंत्र का सही ढंग से काम ना करना 
  • किसी दवाई से एलर्जी 
  • शराब अधिक पीना
  •  तनाव 
  • ज्यादा खाना
  • पानी कम पीना 
  • दस्त होने के लक्षण – 
  • उलटी होना
  • बार बार दस्त फील होना
  • पेट में मरोड़
  • बुखार
  • वजन कम होना
  • दस्त में ब्लड का भी आना
  • अजीबो गरीब दस्त होना

ये सभी लक्षण बताते है कि व्यक्ति दस्त से परेशान हो गया है| यह वैसे बहुत सीरियस बीमारी नहीं है| इसका इलाज आसानी से घर पर किया जा सकता है| मैं आज आपको इस बीमारी का घरेलू उपचार (home remedy) बताउंगी| जिसकी मदद से आपको dast से बहुत जल्द आराम मिल जायेगा|

दस्त का घरेलू उपचार(dast ka gharelu upay)

सरसों (राई) के दाने –सरसों में antibactiria propertie होती है जो दस्त रोकने में मदद करती है| ¼ tsp राई के दानो को 1 चम्मच पानी में 1 घंटे तक भिगो कर रखें| अब इस पानी को दवाई की तरह पी लें| इसे दिन में 2-3 बार पियें| आपको dast से बहुत जल्द आराम मिलेगा|

नीम्बू –नीम्बू में citric एसिड होने की वजह से वह पेट को अच्छे से साफ कर देता है, यह पेट से सारी गन्दगी हटाने में मदद करता है| 1 नीम्बू से पूरी तरह अच्छे से रस निकाल लें| अब इसमें 1 tsp नमक और 1 चम्मच शक्कर मिलाएं| इसे अच्छे से मिलाएं| अब आप इसे हर घंटे पियें| आपको आराम मिलेगा| आराम मिल जाये तब भी 1-2 दिन तक इसे दिन में 2 बार पियें जिससे आपका पेट पूरी तरह से साफ होकर अच्छे से काम करने लगेगा|

अनार –अनार एक ऐसा फल है जो dast में आराम देता है और जिसको यह बीमारी बार बार होती है उन्हें अनार खाने से बहुत आराम मिलता है| दस्त होने पर अनार के दाने ज्यादा से ज्यादा खाएं| इससे आपको आराम मिलेगा| दिन में 2 अनार से ज्यादा ना खाएं| इसके अलावा आप अनार का रस निकाल कर कम से कम दिन में 3 बार पियें| इसके अलावा आप अनार के पत्तों को पानी में उबालें और उस पानी को पियें| आपको इससे बहुत जल्द आराम मिलेगा|

मैथी –मैथी में antibactiria और antifungal प्रॉपर्टीज होती है| मैथी के दानों को पीस कर पाउडर बना लें| अब 2 चम्मच मैथी पाउडर को 1 गिलास पानी में डालें और सुबह खली पेट पियें| 2-3 दिन ऐसा करने से आपको पूरी तरह से दस्त मे  आराम मिलेगा|

शहद –शहद एक आयुर्वेद तरीका है इससे बहुत सी बीमारी ठीक होती है| 1 चम्मच अच्छी शहद लें, अब इसमें ½ tsp दालचीनी का पाउडर मिलाएं| इसको 1 गिलास गुनगुने पानी में मिलाएं| इसे सुबह खाली पेट पियें| फिर बाद में भी 1-2 बार पियें| आपको 1 दिन में ही दस्त से आराम मिलेगा|

छाछ (मठा) –हमारे भारत में छाछ को healthy ड्रिंक माना जाता है| हमारे पेट के लिए इसे बहुत अच्छा माना जाता है| इसे पिने से पेट का पाचन तंत्र सुचारू रूप से काम करने लगता है और पेट की बहुत सी बीमारियाँ दूर हो जाती है| छाछ में मौजूद एसिड बैक्टीरिया और पेट के रोगाणु से लड़ने में मदद करता है| 1 गिलास छाछ में 1 tsp नमक, थोड़ी सी जीरा पाउडर, काली मिर्च या हल्दी मिलाएं| इसे मिलाकर दिन में 2-3 बार छाछ को पियें इससे आपको बहुत फर्क पड़ेगा

साबूदाना –आपको शायद नहीं पता होगा कि साबूदाना हमारे पेट दर्द को कम करता है और पाचन सही ढंग से करता है| साबूदाना को 3 घंटे तक पानी में भिगो दें| साबूदाना में ज्यादा पानी लगता है इसलिए ध्यानपूर्वक उसमें पानी डालें| अब इस पानी को पी लें आपको दस्त से आराम मिलेगा और पेट दर्द भी कम होगा| आप इस पानी को दिन में कई बार पियें| बहुत जल्द आराम मिलेगा|

लिक्विड लेते रहें –अगर आपको कई बार dast हो रहे है, तो आपके शरीर में जल्दी पानी की कमी हो जाएगी और आप dehydrated हो जाओगे| इससे बचने के लिए जरुरी है की आप अपने शरीर को पानी की भरपूर मात्रा देते रहे| जब भी आपको dast हो आप पानी पीना ना छोड़ें| थोड़ा थोड़ा कर के पानी पीते रहे| दिन में कम से कम 7-8 ग्लास पानी पियें| इसके अलावा आप सूप या फलों का रस भी लेते रहें| Electrol पाउडर को पानी में घोल कर दिन में कई बार पियें| पेट में बहुत आराम मिलेगा| नारियल पानी पिने से भी बहुत आराम मिलता है|

पुदीना –पुदीना दस्त में रामबाण की तरह है| इससे पेट में बहुत ठंडक मिलती है और आराम भी| पुदीना में antibactirial प्रॉपर्टीज होती है जो पाचन में बहुत जल्द मदद करता है| इसे आप बहुत से तरीके से ले सकते है| आप चाहें तो पुदीने की ताजा 2-3 पत्तियों को खाना खाने के बाद चबा लें, पाचन अच्छे से होगा| पुदीने की ताजी पत्तियों को पीस कर उसका रस निकाल लें| अब 1 tsp पुदीने के रस में 1 tsp शहद और 1 tsp नीम्बू का रस मिलाएं| इसको अच्छे से मिलाकर दिन में 2-3 बार लें| 1 दिन में ही आराम मिलेगा|

Healthy ड्रिंक –यह एक ऐसी ड्रिंक है जो बहुत आराम देती है| इसको बनाने के लिए 2 चम्मच दही, ¼ tsp हल्दी, 1 चुटकी हींग, मीठी नीम, नमक इन सबको मिलाकर 1 गिलास पानी में उबालें| जब पानी उबलने लगे तब इसे छान लें और ठंडा होने दें| इसे दिन में 2 बार 3 दिन तक पियें

बेल पत्ती –बेल पत्ती और इसका फल पेट को बहुत आराम देता है| बेल पत्ती को सुखाकर पीस लें| अब 2 चम्मच पाउडर में 2 चम्मच शहद मिलाएं| इसे दिन में 3-4 बार खाएं| इसे कुछ दिन तब तक खाएं, जब तक आप पूरी तरह से ठीक नहीं हो जाती|

अदरक –अदरक में antibactiria और antifungal प्रॉपर्टीज होती है जो पेट के दर्द और दस्त में आराम देता है| 1 कप छाछ में ½ tsp सूखा अदरक का पाउडर को मिलाएं| इसे दिन में 2-3 बार पियें| 1 दिन में ही फर्क समझ आएगा|

पपीता –पपीता बहुत आराम देता है| पेट में होने वाली मरोड़ को यह दूर करता है| कच्चा पपीता को लें और किस लें| अब 3 कप पानी में इसे डाल कर 10 min तक उबालें| अब छान कर ठंडा करें और इसे पी लें| दिन में 2-3 बार पियें आराम मिलेगा| 

अन्य कुछ उपाय –

  • हर्बल चाय बना कर पियें|
  • दूध से बना सामान जैसे चीज, दूध, पनीर, कॉफ़ी इन सबको खाने से बचें| दस्त में दूध अच्छा नहीं होता है|
  • केला को दही में मिला कर खाएं|
  • केला में हल्का सा नमक डाल कर मैश करें और दिन में 2-3 बार खाएं|
  • बिना शक्कर की काली चाय पियें|
  • इस समय ज्यादा से ज्यादा आराम करना चाइये|
  • खाने की जगह थोडी थोड़ी देर में लिक्विड लेते रहें|
  • अगर भूख लगे तो बहुत हल्का खाना खाएं जो आसानी से पच जाएँ|
  • आलू, ज्यादा मसाला वाला खाना खाने से बचें|

यह भी ध्यान रखें-यदि दस्त(डायरिया) नवजात शिशु और बच्चों को होता है उन्हें तुरंत डॉक्टर के पास ले जाए। क्योंकि  यदि  बच्चों को शरीर में पानी की कमी हो जाए तो आप लोगों को नहीं पता चलेगा

अगर आपके दस्त इन तरीकों को अपनाकर भी 24 घंटे में ठीक नहीं होते है, तो आप तुरंत डॉक्टर के पास जाएँ और उसकी सलाह लें|

More from my site

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *