सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी- चीन की महान दीवार क्यों बनाई गई थी? 

चीन की महान दीवार क्यों बनाई गई थी? 

चीन की महान दीवार क्यों बनाई गई थी? 

चीन की महान दीवार संसार के महान आश्चर्यों में से एक है। मिट्टी और पत्थर से बनी यह संसार की सबसे बड़ी दीवार है। इसका निर्माण ईसा से 221 वर्ष पूर्व हुआ था। इसे बनाने में लगभग 15 वर्ष लगे थे। इसकी लंबाई 2694.4 किलोमीटर (1684 मील) है। यह 4.57 से 9.2 मीटर (15 से 30 फुट) ऊंची है और 9.75 मीटर (32 फुट) मोटी है। इसमें जगह-जगह पर छोटी-छोटी मीनारें बनी हुई हैं। इस दीवार को ईंटों और पत्थरों से बनाया गया है। 

चीन की महान दीवार क्यों बनाई गई थी? 

loading...

दीवार के निर्माण के पीछे उद्देश्य था- चीन की सुरक्षा। ईसा से लगभग 246 वर्ष पूर्व चीन छोटे-छोटे प्रांतों में बंटा हुआ था। इन प्रांतों के राजा शी हुआंग ने इन सबको मिला कर अपना बड़ा साम्राज्य स्थापित किया। साम्राज्य के उत्तरी सिरों पर रहने वाले मंगोलों से उसे हमेशा आक्रमण का खतरा रहता था।

इस खतरे से मुक्ति पाने के लिए उसने एक बहुत बड़ी दीवार बनाने का फैसला किया। उस का सोचना था कि इस दीवार के बन जाने के बाद बाहरी आक्रमण का खतरा समाप्त हो जाएगा। पोहाई की खाड़ी में शान हाइगुआन नामक स्थान से लेकर कांशु में चियाचुकुमान तक यह लंबी दीवार बनाई गई।

बाद में विभिन्न साम्राज्यों द्वारा इसकी मरम्मत भी कराई गई, लेकिन फिर भी यह अपने मकसद को पूरा न कर सकी। यह बार-बार, अलग-अलग स्थानों से टूट जाती थी, जिससे मंगोलों को आक्रमण करने का मौका मिल जाता था। 

चीन की पहचान बन चुकी इस विशाल दीवार को यूनेस्को ने 1987 में विश्व धरोहर घोषित कर दिया था।

More from my site

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

14 − one =