बर्तन के बाहर बूंदें कैसे आती हैं? -Bartan ke bahar bunde kaise aati Hai

बर्तन के बाहर बूंदें कैसे आती हैं

बर्तन के बाहर बूंदें कैसे आती हैं?(Bartan ke bahar bunde kaise aati Hai) 

क्या आप जानते हैं कि सघन और बस्ती वाले स्थानों पर यदि आप कोई ऐसा बर्तन रख दें, जिसमें बर्फ या उसके टुकड़े भरे हों तो उस बर्तन के बाहर पानी की छोटी-छोटी बूंदें जम जाएंगी। उसी बर्फ भरे बर्तन को अगर आप रेगिस्तान के किसी खुले इलाके में रख दें तो बर्तन पर पानी की बूंदे नहीं जमेंगी। जी हां, सच है लेकिन क्यों होता है ऐसा? 

इसका कारण यह है कि किसी भी बर्तन में बर्फ रखने से उसका तापमान बर्तन के आसपास के वातावरण से बहुत कम हो जाता है। परिणामस्वरूप बर्तन के आसपास के वातावरण में उपस्थित नमी संघनित होकर बर्तन के बाहर चारों तरफ पानी की बूंदों के रूप में जमा हो जाती है। लेकिन जब वायुमंडल की हवा बिल्कुल शुष्क होती है, तब ऐसा नहीं होता। इसीलिए रेगिस्तान में रखे बर्फ के बर्तन के बाहर कभी भी पानी की बूंदें जमती नहीं दिखाई देतीं।

loading...

More from my site

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 + 4 =