अरुणाचल प्रदेश में घूमने वाली जगह

अरुणाचल प्रदेश

अरुणाचल प्रदेश में घूमने वाली जगह-Arunachal Pradesh mein ghumne wali jagah

अरुणाचल प्रदेश भारत का एक उतर पूर्वी राज्य है। इसका अर्थ उगते सूर्य का पर्वत है। यहां के पहाड़ी दृश्य मनमोहक हैं। इस प्रदेश के ज्यादातर हिस्से हिमालय से ढके हैं। लोहित, चांगलांग, तिरप पतकाई सहित कई भाग पहाडियों में स्थित हैं। कांगतो, न्येगी कांगसाग, मुरण्य गोरोचन चोटी और पूर्वी गोरीचन चोटी इस क्षेत्र में हिमालय की सबसे ऊंची चोटियां हैं। यहां सेब, संतरा आदि क फलदार वृक्ष हैं। पहाड़ों में चांदी की तरह चमचमाती वर्फ पर्यटकों को खूब लुभाती है। 

अरुणाचल प्रदेश में घूमने की जगह-arunachal Pradesh mein ghumne ki jagah

ईटानगर

loading...

अरुणाचल प्रदेश की राजधानी ईटानगर बहुत ही खूबसूरत है। यह हिमालय की तराई में बसा है। यहां किले, महल, मठों के अलावा प्राकृतिक दृश्य भी पर्यटकों को बहुत मनमोहक लगते हैं। जहां तक दृष्टि जाती है, वहां हरियाली और बर्फ के , पहाड़ नजर आते हैं। 

किला 

अरुणाचल प्रदेश के ईटानगर में पर्यटन के रूप में आप ईटा किला भी देख सकते हैं ईटा किला का निर्माण 14- 15 वीं शताब्दी में हुआ था। ईस किले के नाम पर ही इस शहर का नाम  ईटानगर रखा गया।

बौद्ध मंदिर 

बौद्ध मंदिर

यहां पर खूबसूरत बौद्ध मन्दिर हैं। इन मन्दिरों की छतें पीली हैं और इन मन्दिरों का निर्माण तिब्बती शैली में किया गया है। इस मन्दिर की छत से पूरे ईटानगर के खूबसूरत दृश्य देखे जा सकते हैं। यहां स्थित मन्दिर में एक संग्रहालय का निर्माण भी किया गया है। इसका नाम जवाहर लाल नेहरू संग्रहालय है। यहां पर पर्यटक पूरे अरुणाचल प्रदेश की झलक देख सकते हैं। 

गंगा झील 

 

गंगा झील

गंगा  झील  अरुणाचल प्रदेश के इटानगर से 6 किलोमीटर दूर स्थित है इस झील के पास खूबसूरत जंगल भी है। यह जंगल पूरी तरह से हरा-भरा और चारों तरफ सुंदर पेड़ पौधे वन जीव फूलों के बगीचे इस झील की सबसे बड़ी खासियत है। पर्यटन जंगल के साथ-साथ इस झील को भी बहुत पसंद करते है। यहां पर आने वाले पर्यटकों को झील के साथ-साथ इस जंगल की भी सैर जरूर करना चाहिए।

पापुम पेर 

अरुणाचल प्रदेश मे पापुम पेर भी घूमने वाली सबसे अच्छी जगह है। पापुम पेर हिमालय की तराई में बसा हुआ है। जिसके कारण यहां पर आने वाले पर्यटक अनेक प्रकार के सुंदर-सुंदर चोटियों को भी देख सकते हैं पर्यटक चोटियों के अलावा खूबसूरत जंगल ,पर्यटन स्थल और बहती नदियों को भी देख सकते हैं। इसके अलावा यहां लकड़ियों से बनी खूबसूरत वस्तुएं, वाद्ययंत्र, शानदार कपड़े, हस्तनिर्मित वस्तुएं और केन की बनी सुन्दर कलाकृतियों को देखा-खरीदा जा सकता है। संग्रहालय में एक पुस्तकालय का निर्माण भी किया गया है 

खानपान 

यहां पर पंचफोरन तरकारी, मीसा मंच पोरा, दाल एग, फिस फ्राइड राइस के अलावा चावल-मोटे अनाज से बने हुए पकवान विशेष  रूप से खाये जाते हैं। मांसाहार से बनी डिशेज भी लोगों  की पसंद हैं।

More from my site

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eleven − 5 =