अनसुलझे रहस्य-पूर्णिमा की रात क्या वे प्रेत थे? 

अनसुलझे रहस्य-पूर्णिमा की रात क्या वे प्रेत थे? 

पूर्णिमा की रात क्या वे प्रेत थे?

रहस्य रोमांच सस्पेंस और हैरत में डाल देने वाली विश्व की ऐसी सत्य घटना है जो आज भी रहस्य की धुन में दफन है।आश्चर्यजनक तथ्य जो अभी तक सिर्फ रहस्य है।

इटली के लोग प्रत्येक पूर्णिमा को एक विचित्र दृश्य देखते हैं। वह दृश्य यह कि वहां के फोंटा नामक अस्तबल से प्रत्येक पूर्णिमा की रात ‘बैसिल्का’ नामक एक सफेद घोड़ा निकलकर जंगलों की ओर निकल भागता है। ऐसा अहसास होता कि मानो उस पर कोई सवार हो। फोंटा के एक वृद्ध व्यक्ति नियात कारलो बोटटी का कहना है कि हर पूर्णिमा की रात को बैसिल्का पर सवार होने वाला व्यक्ति कोई और नहीं, बल्कि अमेरिकी सेना का एक सिपाही नेड केली है, जो मृत्यु के उपरांत प्रेत बन चुका है।

नियात कारलो का एक मित्र एलवियो अस्तबल में छिप गया। धीरे-धीरे रात घिर आई और आकाश में चांद खिल उठा। मध्यरात्रि को एलवियो ने अस्तबल का दरवाजा खुलने की आवाज सुनी। दरवाजा खुलते ही वह भय से पसीने में तर-बतर हो गया। अस्तबल का दरवाजा उसने स्वयं बंद किया था और उसमें ताला लगा दिया था। साहस करके वह छिपने के स्थान से बाहर आया तो उसने देखा कि दरवाजा खुला हुआ था और उसमें से बैसिल्का बाहर निकल रहा था। 

एलवियो को लगा कि मानो कोई अदृश्य शक्ति बैसिल्का को बाहर की ओर ले जा रही है। वह मारे भय के कांपने लगा। कुछ समय के बाद उसने देखा कि बैसिल्का अपने पिछले पैरों के बल पर खड़ा हो गया, मानो किसी सवार ने उसकी लगाम खींच ली हो। अगले पल वह जंगल की ओर दौड़ पड़ा। बैसिल्का और उसका प्रेतयोनि में पड़ा सवाल नेड केली समूचे फोंटावासियों के आतंक का कारण बने हुए हैं।

लोगों ने उसकी प्रेत बाधा दूर करने के लिए स्थानीय पादरी फादर फ्रांसिस से कुछ करने का अनुरोध किया। फादर फ्रांसिस ने टोना-टोटका कर नेड केली के प्रेत को भगाना चाहा, पर वे सफल नहीं हो सके। उनका कहना है कि मनुष्य के बजाय पशु प्रेत-संसार के प्रति अधिक संवेदनशील होते हैं। 


Were they ghosts on the full moon night?

Mystery thrill is such a true event of suspense and astonishing world which is still buried in the tune of mystery. Amazing fact which till now is just mystery.

The people of Italy have a bizarre scene every full moon. The scene is that every full moon night a white horse named ‘Basilka’ escapes from the stables named Fonta and runs towards the forests. It feels as if someone is riding on it. Niyat Carlo Botti, an old man from Fonta, says that the person who rides Basilka on every full moon night is none other than Ned Kelly, a US Army soldier who has become a ghost after death.

Alvio, a friend of Niat Carlo, hid in the stables. Gradually night came and the moon blossomed in the sky. At midnight, Alvio heard the sound of the stables opening. As soon as the door opened, he was filled with fear. He himself locked the door of the stables and locked it. Courageously he came out of the hiding place, he saw that the door was open and Basilka was coming out of it.

Alvio felt as if an invisible force was taking Basilka out. He started trembling with fear. After some time he saw Basilka standing on his hind legs, as if a rider had pulled his rein. The next moment he ran towards the forest. The question in Basilka and his haunting Ned Kelly continues to be the cause of the terror of the entire font.

People requested local pastor Father Francis to do something to remove his phantom barrier. Father Francis tried to wipe out Ned Kelly’s ghost, but he could not succeed. He says that animals are more sensitive to the world rather than humans.

More from my site