नॉलेज बैंक-अंतर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस,प्राचीनतम शहर, विश्व का सबसे बड़ा बौद्ध मंदिर,शल्य चिकित्सा के जनक,इंद्री लेमर 

amazing-facts-

अंतर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस

अंतर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस

हालांकि महात्मा गांधी को शांति के लिए कभी नोबेल पुरस्कार नहीं मिला, पर संयुक्त राष्ट्र संघ ने महात्मा गांधी के जन्मदिन 2 अक्तबर को अंतर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस’ घोषित किया है, जो किसी भी नोबेल पुरस्कार से बड़ा है। महात्मा गांधी ने अंहिसा के मार्ग पर चलकर देश को आजादी दिलाई थी। 

शल्य चिकित्सा के जनक

शल्य चिकित्सा के जनक

शल्य चिकित्सा (सर्जरी) का जन्म भारत में छठी शताब्दी ईसापूर्व ही हो चुका था। इसके जनक थे सुश्रुत। उनका जन्म काशी (बनारस) में हुआ था।वह उस समय के बहुत बड़े महान शल्य चिकित्सक थे। उन्होंने शल्य चिकित्सा पर एक पुस्तक लिखी थी जिसका नाम ‘सुश्रुत संहिता’ थी । वह अपने ऑपरेशन की विधियां में 125 तरह के उपकरणों का प्रयोग किया करते थे।उन्होंने 300 प्रकार के ऑपरेशन की विधियां खोजी थीं। 

विश्व का सबसे बड़ा बौद्ध मंदिर

विश्व का सबसे बड़ा बौद्ध मंदिर

इंडोनेशिया के जावा प्रांत में स्थित ‘बोरोबुदुर विश्व का सबसे बड़ा बौद्ध मंदिर है। यह छह वर्गाकार चबूतरों पर बना हुआ है, जिनमें तीन ऊपरी भाग गोलाकार हैं। इसमें 2672 रिलीफ पैनल हैं और 504 बौद्ध प्रतिमाएं हैं। इसके केंद्र में स्थित मुख्य गुंबद के चारों ओर स्तूप वाली 72 बुद्ध प्रतिमाएं हैं। यूनेस्को की इस विश्व विरासत का निर्माण नौवीं सदी में शैलेंद्र वंश के राज्यकाल में हुआ था। 

प्राचीनतम शहर 

प्राचीनतम शहर 

काशी (बनारस) लगातार बसा रहने वाला दुनिया का प्राचीनतम शहर है। इसे भगवान शिव की नगरी कहा जाता है। भारत के बहुत से महान लोग काशी में रहे हैं। इनमें तुलसीदास, कबीर, रविदास, मुंशी प्रेमचंद, जयशंकर प्रसाद और उस्ताद बिस्मिल्लाह खां आदि हैं। 

इंद्री लेमर 

इंद्री लेमर 

इंद्री को बबकोटो भी कहा जाता है। प्राइमेट वर्ग का यह प्राणी विश्व में सबसे बड़ा लेमर है। इसका मूल निवास मेडागास्कर है। इसकी लंबाई 64 से 72 सेंटीमीटर और वजन 6 से 9.5 किलोग्राम तक होता है। इसके रेशमी फर काले और सफेद होते हैं। यह छोटे समूह में रहता है और इनका एक निश्चित सीमा क्षेत्र होता है, जहां ये घूमते हैं।

 

More from my site

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *