Agniveer army question paper 2022 in hindi | अग्निवीर सेना प्रश्न पत्र 2022 हिंदी में

Agniveer army question paper 2022 in hindi

Agniveer army question paper 2022 in hindi |SET-6 TO12 | अग्निवीर सेना प्रश्न पत्र 2022 हिंदी में 

Agniveer army question paper in hindi Pdf – Agniveer army एग्जाम 2022 के लिए यहां पर आपको मॉडल पेपर का सेट 6 से 12 तक दिया गया है। यहां पर मॉडल पेपर का सेट का पीडीएफ  दिया गया है जिसे आप डाउनलोड करके पढ़ सकते हैं।

Agniveer army question paper in hindi

 

Agniveer army question paper इन हिंदी pdf |agniveer army question paper इन hindi

Agniveer army एग्जाम 2022 का सेट पेपर 1 से 12 तक पीडीएफ दिया गया है जिसको आप डाउनलोड कर सकते हैं।

 

Agniveer Army MODEL set-1 2022– CLICK HERE FOR PDF DOWNLOAD

Agniveer Army practice set-2 2022– CLICK HERE FOR PDF DOWNLOAD

Agniveer Army practice set-3 2022 CLICK HERE FOR PDF DOWNLOAD

Agniveer Army practice set-4 2022 CLICK HERE FOR PDF DOWNLOAD

Agniveer Army practice set-5 2022– CLICK HERE FOR PDF DOWNLOAD

Agniveer Army MODEL set-6 TO 7 2022– CLICK HERE FOR PDF DOWNLOAD

Agniveer Army MODEL set-8 2022– CLICK HERE FOR PDF DOWNLOAD

Agniveer Army MODEL set-9 2022– CLICK HERE FOR PDF DOWNLOAD

Agniveer Army MODEL set-10 2022– CLICK HERE FOR PDF DOWNLOAD

Agniveer Army MODEL set-11 to 12 2022– CLICK HERE FOR PDF DOWNLOAD

अग्निपथ योजना ki jankariclick here

Agniveer  Question Paper 2022 PDF Download

agniveer army question paper इन हिंदी pdf-यहां पर इस सेट के  GK का EXPLAIN किया  गया है

1.(a) काकोरी काण्ड भारतीय स्वतन्त्रता संग्राम के क्रान्तिकारियों द्वारा ब्रिटिश राज के विरूद्ध भयंकर युद्ध छेड़ने की खतरनाक मंशा से हथियार खरीदने के लिए ब्रिटिश सरकार का ही खजाना लूटने की एक ऐतिहासिक घटना थी जो 9 अगस्त 1925 को घटी यह लूट कांड आठ डाउन सहारनपुर-लखनऊ पैसेन्जर ट्रेन में काकोरी नामक स्थान पर हुआ था। इसलिए इसे कॉकोरी कांड के नाम से जानते है। 2. (b) पंच महल का निर्माण मुगल बादशाह अकबर द्वारा करवाया गया था। पिरामिड आकार के बने पंचमहल को हवामहल भी कहा जाता है तथा इसे पत्थर में स्वप्न भी कहते हैं। 3. (c) विश्व में प्रदूषण का सबसे बड़ा स्रोत कूड़ा और कचरा है। 

4.(b) मंगलयान भारत का प्रथम मंगल अभियान होने के साथ ही प्रथम अन्तरग्रहीय अभियान भी था वस्तुतः यह भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन की महत्त्वाकांक्षी अंतरिक्ष परियोजना है इस परियोजना के अन्तर्गत 5 नवम्बर 2013 को मंगलयान छोड़ा गया जो की 24 सितम्बर 2014 को मंगल पर पहुंच गया इसके साथ ही भारत विश्व में अपने प्रथम प्रयास में ही सफल होने वाला पहला देश बन गया। 5.(d) लार्ड मेयो का कार्यकाल 1869 से 1872 ई. तक था लार्ड मेयों एक मात्र ऐसे वायसराय थे जिसकी हत्या भारत में एक अफगानी ने सन् (c) खान अब्दुल गफ्फार खान’ जिनकों ‘सीमांत गांधी’ भी कहा जाता है। इन्हे सविनय अवज्ञाआंदोलन के समय उ. प. सीमा प्रान्त में ‘खुदाई खिदमतगार’ एक आनुषगिक आंदोलन चलाया। इस आंदोलन के स्वयंसेवक ‘लाल कुर्ता धारण करते थे जिसकी वजह से इस 

आंदोलन को ‘लाल कुर्ती आंदोलन भी कहा जाता है। लाल कुर्ती दल ने इनको ‘फख-ए-अफगान’ की उपाधि दिया था गफ्फार खा को ‘बादशाह खाँ’ भी कहा जाता है। इन्होंने ‘पख्तून’ नामक पत्रिका ‘पश्तो’ भाषा में निकाला था। इन्हे भारत रत्न से नवाजा गया। 10. (b) ATM जिसे ‘आटोमेटेड टेलर मशीन’ (स्वचालित गणक यंत्र) भी कहा जाता है, एक स्वचालित इलेक्ट्रानिक आउटलेट (बैंकिग) जो डेविट या क्रेडिट कार्ड की मदद से नगदी उपलब्ध कराता है। जान एड्रियन शेफर्ड को इसका अविष्कारक माना जाता है। इसका सर्वप्रथम प्रयोग 1967 में लंदन में हुआ था।

11. (b) मंत्रिमंडल के एक प्रस्ताव के तहत 1 जनवरी 2015 से ‘योजना आयोग’ का स्थान ‘नीति आयोग ने ले लिया है। इस नई संस्था को राष्ट्रीय भारत परिवर्तन संस्थान (National Institution for Transforming India-NITI) का नाम दिया गया है प्रधानमंत्री की अध्यक्षता वाला यह आयोग सरकार के थिंक टैक के रूप में कार्य करेगा। इसके कुछ मुख्य पदाधिकारी निम्न है अध्यक्ष- प्रधानमंत्री (नरेन्द्र मोदी) पदेन उपाध्यक्ष- अरविन्द पनगड़िया । सचिव (CEO) – अभिताभ कांत पूर्णकलिक सदस्य- प्रो. विवेक देवराय एवं वी. के. सारस्वत 12. (c) दस्य नेत्री एवं सांसद फूलन देवी के जीवन पर आधारित फिल्म ‘द बैंडिट क्वीन’ के निर्माता निर्देश शेखर कपूर थे।

13. (c) बालाजी विश्वनाथ के मृत्यु के पश्चात उसका सुयोग्य पुत्र पेशवा बाजीराव । (1720-1740) पेशवा बना। बाजीराव एक योग्य नीतिज्ञ एवं सेनापति का अपने प्रयत्नों के द्वारा उसने मराठों को भारत की प्रथम श्रेणी की शक्तियों में ला खड़ा किया मुगल साम्राज्य के विषय में कहा गया कथन ‘आइये अब हम इस पेड़ के खोखले तने पर प्रहार करें शाखाएं तो अपने आप गिर जायेंगी’। विशेष प्रसिद्ध है।

14. (c) गाँधी जी व्यक्ति एवं राज्य के मध्य व्यक्ति को महत्ता प्रदान किया तथा राज्य की बुराई किया गाँधी जी अनुसार राज्य एक शोषण की संस्था है अतः व्यक्तिगत स्वतंत्रता के लिए इसको समाप्त करना आवश्यक है। इसलिए गाँधी जी को दार्शनिक अराजकतावादी चिंतक माना जाता है। वर्तमान राज्य के विकल्प में उन्होंने ‘राम राज्य’ की संकल्पना किया। उनके राजनीतिक विचार धारा पर रालस्टाय का विशेष प्रभाव था। ‘हिन्द स्वराज्य’ (1909) राजनीतिक चिंतन पर आधारित विशेष पुस्तक है। 15. (d) भारत में टकशाल (Mints) टकशाल स्थापना वर्ष (1) मुम्बई = 1830 द्रव्य कार्य पेप्पसीन – प्रोटीन संश्लेषण रेनीन – केसीन (दुग्ध) का संरलेषण एमाईलेज – स्टार्च को शर्करा में बदलता है 

यूरोबीलिन – मानव मल का रंग पीला 1

7.(b) सम्पर्क में रखी दो वस्तुओं के बीच एक प्रकार का कार्य करता है। जो गति करने में वस्तु का विरोध करता है, यह बल घर्षण बल कहलाता है इसके कुछ दैनिक उदाहरण निम्न है: (1) इस बल के कारण ही मनुष्य सीखा खड़ा रहता है और चल पाता है। (2) यदि सड़को पर घर्षण बल न हो तो पहिए फिसलने लगते है। (3) यदि पट्टा एवं पुल्ली के बीच घर्षण बल ने हो तो मोटर पाहिए को नहीं घुमा सकेगा। (4) घर्षण बल के न होने के कारण केले के छिलके पर तथा बरसात के दिनों में चिकनी सड़क पर फिसलन होती है। 18. (b) लाइकेन/लिचेन में कवक (fungi) और शैवाल (Algae) का सहजीवन पाया जाता है। लिचेन का फंगल (कवक) पार्टनर एस्कोमाइसीट्स (Ascomycetes) या बेसिडोमाइसीट्स (Basidomycetes) वर्ग के होते है। सामान्यतः एल्गल (शैवाल) पार्टनर ट्रेबोक्सिया (Trebouxia), स्यूडोट्रेबॉक्सिया (Pseudobouxia) या मीर्मिसिया (Myrmecia) वर्ग से संबंधित हैं। सल्फर डाई-ऑक्साइड की सूक्ष्म मात्राओं लाइकेन की वृद्धि को प्रभावित करता है। अतः ये वायु प्रदूषण के अच्छे सूचक होते हैं। प्रदूषित क्षेत्रों में ये विलुप्त हो जाते है।

19. (a) सभी आर्थोपोडा संघ के जन्तुओं में खुला परिसंचरण तंत्र पाया जाता है। काकरोच इसी संघ का प्राणी है। परिणामतः इसमें भी खुला परिसंचरण तंत्र पाया जाता है। इस संघ के जन्तुओं के रक्त में हीमोग्लोबिन नहीं पाया जाता है इसी लिए इन्हे हीमोलिम्फ’ (Hemolymph) कहा जाता है। 20. (d) महासागरीय धाराएं समुद्र में निश्चित दिशा में गतिशील विशाल जल राशियां है। इन जल धाराओं की उत्पत्ति के निम्नांकित कारण होते है (1) पृथ्वी की परिभ्रमण गति (2) वायुदाब (3) पवन (4) वाष्पीकरण एवं वर्षा (5) घनत्व प्रवणता (6) तापांतर (7) महाद्वीपीय तटीय बाँधा 21.(b) परमाणु बम को समान्यतया नाभिकीय बम भी कहा जाता है। इसका सिद्धांत अनियंत्रित नाभिकीय विखण्डन (Neuclar Fission) पर आधारित है। परमाणु बम को बनाने के लिए यूरेनियम-235 एवं प्लूटोनियम-239 का प्रयोग किया जाता है। प्रथम परमाणु बम जे. राबर्ट ओपन हीमर द्वारा 1945 में बनाया गया था। द्वितीय विश्व युद्ध में प्रथम परमाणु बम (लिटिल न्याय)6 अगस्त 1945 को जापान के नागसकी एवं द्वितीय परमाणु (फैर मैन) 9 अगस्त 1945 को हिरोशिमा (जापान) नगरों पर अमरीका द्वारा गिराया गया था। 

22(c) मक्खन कोलायड तब बनता है, जब मक्खन की वसा गुलिकाए (Fat globules) पानी में छितर (dispersed) जाती है अर्थात जल में वसा गुलिकाओ (Fat globules) के फैल जाने पर मक्खन के कोलायड विलयन का निर्माण होता है। 23. (a) जब हवा की अनुपस्थिति में लकड़ी का इसी प्रकार के अन्य पदार्थ को गर्म किया जाता है तब चारकोर का निर्माण होता है। चारकोल जिसे लकड़ी का कोयला या काष्ट कोयला भी कहा जाता है के निर्माण की विधि उष्माविघटन (Pyrolisis) कही जाती है। चारकोल में कार्बन की मात्रा लगभग 80% के आसपास होती है। इसका उपयोग धातुकर्म ईधन, औद्योगिक ईधन बारूद निर्माण एवं चिकित्सा आदि में किया जाता है।

24. (d) ओजोन परत समताप मण्डल में लगभग 15-35 k.m. ऊँचाई के बीच पायी जाती है। पर्यावरणीय प्रदूषण के कारण ओजोन परत में | ह्रास देखा गया है। ओजोन परत में कमी के कारण अधिमात्रा में | पराबैगनी किरणे पृथ्वी तक पहुँचती हैं। जिसके कारण मनुष्य में त्वचयी कैसर होता है। इसके साथ ही पराबैगनी किरणों से आँखो तथा प्रतिरक्षी तन्त्र को नुकसान पहुंचता है। ज्ञातव्य है कि रेफ्रीजेरेटर अग्निशमन यंत्र तथा एअरो सोल स्प्रे में उपयोग किए जाने वाले क्लोरो-फ्लोरो-कार्बन (CFC) से ओजोन परत का ह्रास होता है। 25.(d) जब गाड़ियों एवं औद्योगिक कारखानों द्वारा उत्सर्जित धुएं में उपस्थित राख, गंधक व अन्य हानिकारक रसायन जब कुहारे के साथ मिश्रत होते तब धूम कोहरे का निर्माण होता है। स्मॉग शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग हेनरी, अंतोनी देवास को जाता है। ज्ञातव्य हो कि दिल्ली एवं आस-पास के क्षेत्रों में स्मांग की समस्या बढ़ रही है। जिसका सबसे बड़ा कारण कृषि क्षेत्र में बढ़ते हार्वेस्टर के प्रयोग को माना गया है। क्योंकि इसके प्रयोग के बाद बचे ‘पैरल’ (पुआल) को जलाने से बड़ी संख्या में निकला ऐस बड़े कणों वाला धुआँ) दिल्ली के आसपास के वातावरण को प्रभावित कर रहा है। 26. (c) गुरूत्वाकर्षण पदार्थ द्वारा एक दूसरे की ओर आकृष्ट होने की बल है। न्यूटन ने गुरुत्वाकर्षण बल की खोज किया था। पृथ्वी का अपना वायुमंडल गुरूत्वाकर्षण शक्ति के कारण है। 27.(a) प्रेरक कौशल मस्तिष्क के ललाट भाग (Frontal lobe) से सम्बंधित होते है ये गूढ चिन्तन अर्थात एकाग्रता नियोजन, भावुकता, स्मृति, तर्क, विवेक और संकल्प आदि का नियन्त्रक होता है। 28. (d) एमिलेज एक एन्जाइम है जो स्टार्च को ग्लूकोज और मल्टोज में तोड़ देता है। मानव तथा कुछ अन्य स्तनपोषियों के लार में एमिलेज पाया 

जाात है जो पाचन में सहायक होता है। यह एन्जाइम प्रोटोजोआ के अलावा प्राणि जगत के सभी सदस्यों में मौजूद होता है। 29.(c) तरल पदार्थ के क्वथनांक पर तापमान नियत रहता है। 30. (b) इलेक्ट्रान्स और धनात्मक आयन के कुछ अंशों के मिश्रण से आयनोस्फियर बना है। समताप मण्डल के ऊपर वायुमंडल का भाग जिसमें ऐसे विशिष्ट परत पाए जाते है जो विद्युत चुम्बकीय तरंगों को पुनः | पृथ्वी पर परावर्तित करते है। इसी भाग में ध्रुवीय ज्योति भी दृष्टिगोचर 

होती है। आयनमंडल को थर्मोस्पीयर भी कहते हैं। 31.(0) अश्रु ग्रंथी नेत्र गुहा में पायी जाती है इस ग्रन्थि से अश्रु स्त्राव होता है। 32. (c) किण्वन के पश्चात मोलासे (गुड़) का प्रयोग कर एथेनाल बनाया जाता है। एथेनाल एक प्रसिद्ध अल्कोहल है। इसे एथिल अल्कोहल भी कहते है। 33.(b) विद्युत प्रतिरोध वह अनुपात है जिस कोटि तक स्वयं से जाने वाले विद्युत धारा का विरोध करता है निम्न विकल्पों में से लकड़ी विद्युत रोधी है जबकि ताँबा, पारद, एल्यूमिनियम विद्युत रोधी नहीं है यानि ये विद्युत के सुचालक है। 34. (b) वायु के बुलबुले तरल पदार्थ में श्यानता और उत्प्लावन के कारण उठते हैं। वास्तव में श्यानता किसी तरल का वह गुण है जिसके कारण वह किसी बाहरी प्रतिबल या अपरूपक प्रतिबल के कारण अपने का विकृत करने का विरोध करता है। सामान्य शब्दों में यह उस तरल के गाढ़ेपन या उसके बहने का प्रतिरोध करने की क्षमता का परिचायक है। 35. (b) जियोलाइट एक प्रकार की धातु है जो ज्वालामुखी पहाड़ से निकली चट्टानों की कंदराओं में पायी जाती है। वास्तव में ये हाइड्रेटेड सोडियम एल्यूमिनियम सिलिकेट है। 36. (a) तरल पदार्थ के क्वथनांक में भिन्नता दाब में भिन्नता के कारण होती है। जिस तापमान पर जल उबलने लगता है उसे क्वथनांक कहते हैं। भिन्न-भिन्न दाब पर भिन्न-भिन्न क्वथनांक बिन्दू होता है। यही कारण है कि पहाड़ों पर कम वायु दाब के कारण क्वथनांक बिन्दु घट जाता है। जिससे वहा खाना देर से पकता है। 

1.(b) शिलालेखों के अध्ययन को एपीग्रेफी तथा प्राचीन तिथियों का 

अध्ययन पेलियोग्राफी कही जाती है। अभिलेख पाषाण शिलाओं स्तम्भों, तामपत्रो मंदिर की दिवारों आदि पर खुदे मिलते है। भारतीय संदर्भ में सबसे प्राचीन शिलालेख एशिया माईनर (तुकी) से प्राप्त बोगजकोई नामक अभिलेख है। इसमें इन्द्र मित्र, वरूण एवं नासत्य (अखिन कुमार) का उल्लेख है। भारत में प्राप्त प्राचीनतम अभिलेख अशोक के है। जिनकों जेम्स प्रिंसेप ने पढ़ा था। इसके अतिरिक्त जूनागढ़ अभिलेख भारत में संस्कृत में लिखा प्रथम अभिलेख है। जिससे शकों के इतिहास का ज्ञान होता है। 

(d) भारतीय सेना को दिए जोने वाले पुरस्कार (1) परमवीर चक्र – यह वीरता के लिए दिया जाने वाला सर्वोच्च पुरस्कार है। यह कांस्य निर्मित होता है। पदक को सैनिक कमीज के बायींतरफ बैंगनी रंग के रिबन से लगाता है। (2) महावीर चक्र : यह वीरता का द्वितीय सर्वोच्च पुरस्कार है। यह स्टैण्डर्ड चाँदी का बना होता है। जो सफेद तथा केशरी रीबन लगाया जाता है। वीर चक्र : यह तीसरा सर्वोच्च पुरस्कार है। यह पदक भी स्टैण्र्ड चाँदी का बना होता है। तथा नीली-केशरी पट्टी के साथ पहना जाता है। (4) विशिष्ट सेवा पदक : यह सेना के कर्मचारियों को उच्च कोटि के विशिष्ट सेवा के लिए तथा अशोक चक्र भी वीरता के लिए दिया जाने वाला पुरस्कार है।

3.(c) भारत की प्रथम लोक सभाध्यक्ष मीरा कुमार बनी। उन्होंने 15वीं लोक सभा के दौरान 4 जून 2009 से 18 मई 2014 तक यह पद धारण किया था। सन् 1945 में बिहार में जन्मी मीरा कुमार प्रसिद्ध भारतीय नेता एवं स्वतंत्रता सेनानी श्री जगजीवन राम की पुत्री है। इंडियन पार्लियामेंट्री डिप्लोमेसी नामक पुस्तक हाल ही में बहुत चर्चित रही है। वर्तमान 16वीं लोकसभा की अध्यक्ष सुमित्रा महाजन है। 

ग्रेट बैरियर रीफ प्रशांत महासागर में स्थित है। यह कोरल रीफ आस्ट्रेलिया के क्वींसलैण्ड द्वीप के सहारे 3200 किमी. चौड़े क्षेत्र में फैला है। आस्ट्रेलिया द्वारा इस क्षेत्र को ग्रेट वैरीयर रीफ समुद्री पार्क घोषित करके इसका संरक्षण शुरू किया गया है। युनेस्को द्वारा राष्ट्रीय धरोहर में शामिल इस पार्क का क्षेत्रफल 344,400 वर्ग किमी है। 

5(d) रेशम का कीड़ा, कीट वर्ग का प्राणी है। इन कीड़ों में बाम्बिक वंश के कीड़ो के लारवा से रेशम प्राप्त होता है। अतः इन्हें रेशम कीड़ कहते हैं। रेशम के कीड़ शहतुत (मलबरी) के पत्तो को खाता है। तथा रेशम के कीड़े एकलिंग होते है अर्थात् नर और मादा कीट अलग अलग होते है।

6. (a) ‘भारत में बेरोजगारी की समस्या बहुत गम्भीर है। वर्ष 2009-10 में बेरोजगारी लगभग 9.3 प्रतिशत, 2011-12 में 3.8 प्रनिशत, 2012 2013 में 4.7 प्रतिशत तथा 2013-14 में 4.9 प्रतिशत, थी। इसके साथ ही साथ 2015-16 में पिछले पांच सालों में सर्वाधिक लगभग 5 प्रतिशत है। बेरोजगारी की समस्या सर्वाधिक ग्रामीण क्षेत्रों में है। 7.(d) भारतीय संविधान के भाग 3 में अनुच्छेद 12 से 35 तक मौलिक अधिकारों को वर्णित किया गया है, जिसमें स्वतन्त्रता का अधिकार (अनु. 29-30), शोषण के विरूद्ध अधिकार (अनु. 23-24), हार्म की स्वतन्त्रता का अधिकार (अनु. 25-28), संस्कृत और शिक्षा सम्बन्धि अधिकार (अनु.29-30), कुछ अन्य विधियों की शक्ति (अनु. 31), तथा सवैधानिक उपचारों का अधिकार (अनु. 32-35), इसके अन्तर्गत आते है। अनु-29, किसी भी वर्ग के नागरिक को अपनी भाषा या लिपि बचाए रखने का अधिकार प्रदान करता है, तथा अनुच्छेद -30, सभी धार्मिक और भाषाई अल्पसंख्यकों को अपनी पंसद को शैक्षित संख्या स्थापित करने और चलाने का अधिकार प्रदान करता है।

8. (d) सतलुज उत्तरी भारत में बहने वाली एक सदानीर नदी है। जो पंजाब में बहने वाली पाँच नदियों से बड़ी है। इस नदी पर पंजाब भाँखड़ा बांध बना हुआ है, जिससे पंजाब में बिजली आपूर्ति की जाती है। : तथा कृषि क्षेत्रों में सिंचाई के लिये इस नदी से, पंजाब का बढ़ा हिस्सा जुड़ा है। इससे नागल बांध की नहर, सहहिंद और बेस्ट दोऑब की नहर, राजस्थान नहर और बीकानेर नहर आदि सहायक नहरे पानी प्राप्त करती है। 9. (a) ‘प्लेईंग इट माई वे भारतीय महान क्रिकेटर सचिन रमेश तेन्दुलकर की आत्म कथा है। जिसको 06 नवम्बर 2014 को मुम्बई में प्रकाशित किया गया था, इस किताब को आत्मकथा की श्रेणी में “रेमंड क्रासर्वड पोपुलर आवार्ड” से नवाजा गया है, इसके साथ ही साथ इसे ‘लिम्का बुक रिकार्ड’ में भी दर्ज किया गया है। 

(a) कार्टेल,दो या दो से अधिक कम्पनियों के मध्य हुआ, एक ऐसा समझौता है, जिसके द्वारा वे नए उत्पाद के मूल्यों और बाजार में उनको उपलब्धता का निर्धारण करते है। ओपेक (OPEC) भी इसी तरह पेट्रोलियम उत्पादक 13 देशों का संगठन है। इसमें अल्जीरिया,अंगोला,ईक्वाडोट,इरान,ईराक,कुवैत,सऊदी अरब,सयुक्त अरब अमीरात,कवर,नाइजीरिया, लीबिया, वेनेजुएला और गैबॉन (अफ्रीका) है। 11. (a) अपशिष्ट (सलेज) जल, रसोई से निकलने वाले अपशिष्ट जल को कहते है। यह जल रसोई से निकलने वाले जलों के साथ-साथ घरों के अन्य जला जैसे कपड़े धोने का पानी, नहाने का पानी आदि। इस जल में घरों के शौचालयों से निकलने वाले जलों को शामिल नहीं किया जाता है। 12.(d) भारत की प्रथम महिला मुख्यमंत्री के रूप में सुचेता कृपलानी को जान जाता है। वर्ष 1963 में ये उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री चुनी गयी थी, तथा भारत की पहली महिला मुख्यमंत्री बनी। इन्होनें 1949 में सयुक्त राष्ट्र संघ में प्रतिनिधिमंडल की सदस्य बनकर अमेरिका गयी थी तथा 1954 और 1957 में संसदीय प्रतिनिधि मंडल का नेतृत्व कर तुर्किस्तान गयी थी।

13. (c) दिलवाड़ा मन्दिर, पाँच मन्दिरों का समूह है। ये राजस्थान के सिराही जिले के माऊंट आबू नगर में स्थित है। यह शानदार मन्दिर जैन धर्म के तीर्थकारों को समर्पित है। यह मन्दिर 1931 में वास्तुपाल और तेजपाल नामक दो भाइयों द्वारा बनवाया गया था। इन मन्दिरों में जैन धर्म के बाईसवे तीर्थकार नेमीनाथ को समर्पित ‘लुन वासाही मन्दिर’ काफी लोकप्रिय है। 14.(a) सबसे न्यूनतम जन्म दर केरल राज्य में है। यहां वर्ष 2011 में जन्म दर 15.2% थी जबकी उत्तर प्रदेश में 27.8% पश्चिम बंगाल में 16.3% तथा बिहार में 27.7% है। पूरे भारत में जन्म दर 21.8% है। 

(b) दक्षिण एशियाड क्षेत्रीय सहयोग संगठन (सार्क) दक्षिण एशिया के आठ देशों का आर्थिक और राजनीतिक संगठन है। इसकी स्थापना 8 दिसम्बर 1985 को भारत, अफगानिस्तान, पाकिस्तान, बंग्लादेश, श्रीलंका, नेपाल, मालदीव, भूटान द्वारा मिलकर की गई थी। सार्क का सचिवालय काठमांडू (नेपाल) में स्थित है। 16.(b) शिवालिक पर्वत श्रेणी हिमालय पर्वत का सबसे दक्षिणी तथा भौगोलिक रूप से युवा भाग है। जो पश्चिम से पूरब तक फैला हुआ है। यह हिमालय पर्वत प्रणाली के दक्षिणतम और भूगर्भ शास्त्रीय दृष्टि से कनिष्टतम पर्वतमाला कड़ी है। इसकी ऊँचाई 900-1200 मीटर है। यह हिमालय की सबसे बाहरी पर्वत श्रेणी है। 17.() स्टेनलेस स्टील के निर्माण में कार्बन के मिश्रण से कठोरता आती है। लोहे में जितना अधिक कार्बन मिलाते है इस्पात उतना ही कठोर बनता है। कठोरता बढ़ने के साथ-साथ उसकी भंगुरता भी बढ़ती है। 18. (b) 

फ्लोएम पौधों में पाया जाने वाला संवहन उत्तक है। फ्लोएम खाद्य पदार्थों का वहन करता है। जबकि जाइलम जल का वहन करता है। जिसकी सहायता से पौधे भोजन का निर्माण करते हैं। 19. (d) वह प्रतिक्रिया जो परिमाण में अभिकंद्रीय बल के बराबर होता है। लेकिन जिसकी दिशा अभिकेंद्रीय बल के विपरीत होती है। अपकेन्द्रीय बल कहलाती है। कपड़ा साफ करने, दूध से मक्खन निकालने वाली मशीन अभिकेन्द्रीय बल पर कार्य करती है। 20. (c) प्रभस्तिष्क, अग्रमस्तिष्क का एक भाग है इसके टेम्पोरल पिंड (Temporal lobe) या शंख पालि श्रवण ज्ञान में सहायक होती है। 21. (a) लेड सल्फेट (PbSon) एक श्वेत क्रिस्टलीय ठोस है। यह जल में घुलनशील नहीं होता है। 22. (c) सक्रिय काष्ठ कोयला में अधिशोषण का गुण पाया जाता है। जिसके कारण यह शुद्ध पदार्थों में मिली रंगीन अशुद्धियों को अपनी सतह पर अधिशोषित करके अलग कर देता है। इस तरह ऐसे पदार्थ पूर्णतः शुद्ध रूप में आ जाते हैं। 23. (d) चर्नोबिल परमाणु दुर्घटना बहुत बड़े पैमाने की एक परमाणु दुर्घटना थी जो 26 अप्रैल 1986 को यूक्रेन में स्थित चर्नोबिल परमाणु ऊर्जा प्लांट में हुई थी। एक धमाकेदार विस्फोट और आग से बहुत बड़ी मात्रा में रेडियोधर्मी कण पश्चिमी सोवियत संघ और यूरोप के 

अधिकांश हिस्सों में फैल गए थे। 24. (c) केरल में रेडिया एक्टिव प्रदूषण थोरियम के कारण हुआ था। थोरियम | 1828 ई. में बर्जीलियस ने थोराइट अयस्क में की थी इसका सबसे महत्वपूर्ण स्रोत मोनोजाइट है। संसार में मोनोजाइट का सबसे बड़ा भण्डार भारत के केरल राज्य में है। थोरियम एक रेडिया एक्टिव पदार्थ है। 25. (b) स्तनधारियों में उत्सर्जन के लिए एक जोड़ी प्रमुख उत्सजी अंग पाए जाते है। जिसे वृक्क (Kidney) कहते है। यह अंग उत्सर्जी पदार्थों का उत्सर्जन मूत्र के रूप में करता है। वृक्क के अलावा अन्य उत्सर्जी अंगों में फेफड़े, त्वचा, आंत, यकृत, शामिल है। 26. (a) कार्बन पृथ्वी पर पाया जाने वाला एक तत्व है। कार्बन सर्वाधिक | रूप से एन्थ्रासाइट में पाया जाता है, एन्थ्रोसाइट में लगभग 91-8 | से 98 प्रतिशत तक कार्बन पाया जाता है। एन्थ्रोसाइट कार्बन का 

ही एक रूप है। 27. (d) एसपर्जिलस एक प्रकार का जोन होता है, जो लगभग सौ मोल्ड (कवक) प्रजातियों से मिलकर बना होता है, और विश्व भर में, विभिन्न जलवायुओं में पाया जाता है। इसके लैंगिक प्रजनन में दो अनुरूप नाभिकों का सम्मेलन होता है इस विधि में तीन अवस्थाएँ जीतद्रव्य सायुज्यन, नाभिक सायुज्यन, और अर्धसूत्रण होता है। एसपर्जिलस के वैगिक जनन अंगों को युग्महानी कहते है, पुरूष युग्महानी को पुंहानी और स्त्री युग्महानी को एस्कोहानी कहा जाता है। 

(d) तारे टिमटिमाटे (चमकते) है पर ग्रह नहीं। तारों की रोशनी का टिमटिमाना, हवा में रोशनी के अपर्वतन के कारण होता है।यह तारों की रोशनी पर ही होता है, क्योंकि तारें पृथ्वी से बहुत दूर है, और इनके द्वारा आती रोशनी की किरण हम तक पहुचते पहुचते समान्तर हो जाती है, जबकि ग्रह पृथ्वी के करीब है, इसलिये उनसे अधिक प्रकाश मिलता है और प्रबलता में यदि छोटा मोटा परिवर्तन होता भी है, तो नजर नहीं आते। 29. (a) एक्स-रे प्रकाश का विघुत चुम्बकीय विकिरण है, जिसकी तरगदैध्य 0.01 से 10 नैनोमीटर तक होती है। भेदन क्षमता के आधार पर इसे ‘मृदु’ एक्स-रे (0.12 से 12 किलो वोल्ट) और ‘दृढ़ एक्स-रे (12 से 120 किलो वोल्ट) में विभाजित किया गया है। फोटोग्राफी प्लेट पर विभिन्न तरीकों के आधार पर एक्स-रे का पता लगाया जाता है। डिजिटल कम्युटर के आगमन से पूर्व अधिकांश रेडियोग्राफिक चित्र उत्पन्न करने के लिये फोटोग्राफीक प्लेटों का इस्तेमाल किया जाता है। एक्स-रे किरणें परावर्तित या अपवर्तित दोनों हो सकती है। 30. (a) सोडियम बाई कार्बोनेट एक अकाबनिक यौगिक है, इसे मीठा सोड़ा (खाने का सोड़ा) भी कहते है। इसका अपुसूत्र N,HCO, होता है। सोडियम बाइकार्बोनेट को 50 डिग्री सेल्सियर से ज्यादा गर्म करने पर यह सोडियम कार्बोनेट में बदल जाता है, तथा कार्बन गैस और जल मुक्त होते है। सोडियम कार्बोनिट को घावन सोडा (वाशिंग सोडा) भी कहते है। इसका उपयोग कपड़े धोने तथा जल की कठोरता दूर करने में होता है। 31.(e) (AC) को (DC) धारा में परिवर्तित करने वाला डिवाईस (युक्ति) रेक्टीफायर है। इसके अतिरिक्त अन्य युक्तियों का प्रयोग निम्न है। एमीटर – विद्युत धारा को एम्पियर में मापने हेतु ट्रांसफार्मर – (AC) विद्युत के वोल्टेज को कम या अधिक करने वाला यंत्र गैल्वेनोमीटर – विद्युत धारा की प्रबलता मापने हेतु। 32. (c) बुरादे से ढकी हुई बर्फ जल्दी से इसलिए नही पिघलती कि बर्फ की दिवारो के मध्य हवा की परत होती है। जो उष्मा का कुचालक होता है। जिससे अन्दर की ऊष्मा बाहर नहीं जा पाती फलस्वरूप बर्फ का तापमान बाहर की अपेक्षा अधिक बना रहता है। 33.(d) पृथ्वी के समताप मण्डल में ओजोन परत पायी जाती है। यह एक छन्नी की भाँति कार्य करता है। जो सूर्य की पराबैंगनी किरणो को अवशोषित करती है। यह परत समताप मंडल में पायी जाती है। समताप मंडल की औसत ऊँचाई 18-32/35 किमी. के आस-पास होती है। ज्ञातव्य है कि ओजोन परत की सघनता 15-35 किमी. के बीच होती है। वायुयानों से निसृत नाइट्रोजन आक्साईड, रेफ्रीजरेटरों से निकलने वाली CFC गैस से ओजोन परत को क्षति हो रही है, जिससे त्वचीय कैंसर की बिमारी बढ़ रही है। 34. (a) कार्बन मोनो आक्साईड (CO) एक रंगहीन गंधहीन एवं स्वादहीन गैस है। जब वायु में इस गैस की सांद्रता 35 PPM से अधिक होती हैं तब | यह गैस मनुष्य एवं पशुओं के लिए हानिकारक सिद्ध होती है। यह गैस रक्त में उपस्थित हीमोग्लोबिन के साथ आक्सोहिमोग्लोबिन नामक पदार्थ का निर्माण करता है, जिससे मनुष्य के रक्त में आक्सीजन की मात्रा कम होने लगती है और उसकी मृत्यु हो जाती है।

35.(d) ध्रुवीकरण प्रकाश सम्बन्धी ऐसी घटना है जो अनुदैर्ध्य तंरग एवं अनुप्रस्थ तरंगों में अंतर स्पष्ट करती है। दूसरे अर्थ में ध्रुवीकरण की घटना प्रकाश के अनुप्रस्थ स्वरूप को स्थापित करता है। ज्ञातव्य है कि ध्रुवित प्रकाश उत्पन्न करने के लिए पोलराईडरो (Poloroids) का प्रयोग होता है। पोलोराईडर्स नाइट्रो सेलुलोज एवं हरपेथईट (Hemethited) के मिश्रण से बनी एक बड़े आकार की फिल्म होती है, जिसे दो काँच के प्लेटों के बीच रखा जाता है। पोलराइडरों का दैनिक जीवन में अनेक प्रयोग देखने को मिलता है, जैसे- पानी से भीगी सड़कों, अत्यधिक श्वेत प्रकाश या चमकीले सतहों, आदि से परावर्तित प्रकाश की चकाचौंध से बचने के लिए इनका प्रयोग किया जाता है। सिनेमा घरों में पोलाराईड चश्में पहनकर ही थ्री-डी (3-D) फिल्में देखी जाती है। 

(d) क्लोरोफिल में मैग्नीशियम नामक तत्व पाया जाता है, जिसकी उपस्थिति से पौधों में उपस्थित क्लोरोफिल प्रकाश संश्लेषण की प्रक्रिया सम्पन्न होती है। मैग्नीशियम क्लोरोफिल में संयोजन कर प्रोटीन संश्लेषण में महत्वपूर्ण योगदान करता है। पौधों में Mg की कमी के कारण वे पीले हो जाते है, जिसे हरिमहीनता (Cholorosis) नामक रोग कहा जाता है। मैग्नीज तत्व पौधे में उपस्थित नाईट्राईट को नाईट्रेट बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। जबकि लौह तत्व केब्स चक्र को सम्पन्न करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

thirteen − 4 =